अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा भारत यात्रा के दौरान आगरा के ताजमहल को देखने के मामले में पेंच फंसता दिखाई दे रहा है। दरअसल यूएस सीक्रेट सर्विस ट्रंप की स्पेशल कार को ताजमहल तक ले जाने की इजाजत चाहती है, इसे लेकर योगी सरकार मुश्किल में है। दरअसल, इस मुश्किल की वजह सुप्रीम कोर्ट का वह आदेश बन रहा है जिसमें ताजमहल तक किसी की भी गाड़ी को ले जाने की इजाजत नहीं है। ऐसे में अगर डोनाल्ड ट्रंप ताजमहल देखने जाते हैं तो उन्हें लगभग 500 मीटर तक खुले में चलना होगा। यूएस सीक्रेट एजेंसी अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं करना चाहती है। इस वजह से यह स्थिति पैदा हुई है।

यूएस सीक्रेट एजेंसी की है यह मांग

दुनिया के सबसे ताकतवर देशों में से एक अमेरिका के राष्ट्रपति के दो दिवसीय भारत दौरे पर सबकी नजर है। अपनी विजिट के दौरान ट्रंप का कई प्रसिद्ध स्थलों पर जाना प्रस्तावित है। इसमें ताजमहल भी शामिल है। ऐसे में यूएस सीक्रेट एजेंसी चाहती है कि अमेरिकी राष्ट्रपति की सुरक्षा के मद्देनजर सरकार उनकी सबसे सुरक्षित गाड़ी द बीट्स जिसमें अमेरिकी राष्ट्रपति सफर करते हैं, उसे ताजमहल के अंदर तक ले जाने की अनुमति दे।

अमेरिकी राष्ट्रपति की ये गाड़ी है खास

अमेरिकी राष्ट्रपति जिस गाड़ी से सफर करते हैं वह बेहद सुरक्षित गाड़ी है। कैडिलैक ब्रांड की द बीट्स गाड़ी अपनी खासियतों के लिए मशहूर है। इस पर गोलियों का असर नहीं होता है। यह स्टील, टाइटेनियम और सेरेमिक से मिलकर बनी है। यह 5 इंच मोटी बख्तरबंद गाड़ी है।

Posted By: Neeraj Vyas