Vikas Dubey Case: दुर्दांत अपराधी Vikas Dubey के कानपुर में शुक्रवार को एनकाउंटर में ढेर होने के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उसके काले कारोबार की जांच शुरू कर दी है। प्रवर्तन निदेशालय ने उत्तर प्रदेश पुलिस से Vikas Dubey, उनके परिजनों और उसके साथियों की जानकारी मांगी है। अब विकास दुबे की संपत्तियों की जांच की जाएगी।

प्रवर्तन निदेशालय ने विकास दुबे की सभी घोषित और अघोषित संपत्तियों की जांच का काम शुरू कर दिया है। मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में भी जांच शुरू की जाएगी। ED की जानकारी के अनुसार विकास दुबे ने पिछले तीन साल में 15 देशों की यात्रा की थी। संयुक्त अरब अमीरात और थाईलैंड में उसने पेंट हाउस भी खरीदे थे। विकास दुबे ने हाल ही में लखनऊ में करीब 20 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी खरीदी थी। ED ने इस मामले में कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक से जानकारी मांगी है।

ED की एक टीम ने बुधवार को कानपुर पुलिस से संपर्क किया था और विकास दुबे से संबंधित एफआईआर और कई दस्तावेज लेकर लखनऊ आई थी। विकास दुबे पर दर्ज सभी मामलों की जानकारी भी ED ने हासिल की है। विकास दुबे पर यूपी में तीन दर्जन से ज्यादा मामले दर्ज हैं, इनमें से कई गंभीर केस हैं। यदि मनी लॉन्ड्रिंग का केस बना तो उसकी कई अवैध संपत्तियों को भी अटैच किया जा सकता है। ं

उज्जैन जाएगी UP STF की टीम:

यूपी एसटीएफ की टीम ने भी जांच का दायरा बढ़ा दिया है। यूपी एसटीएफ की टीम इस मामले में जांच के लिए उज्जैन जाएगी, जहां उसके शराब व्यवसायी से कनेक्शन की जांच होगी। विकास दुबे को उज्जैन यात्रा के दौरान इस शराब कारोबारी ने मदद की थी। मप्र पुलिस ने इस कारोबारी को हिरासत में लिया है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020