Weather Alert : इस समय प्रशांत महासागर में बन रहे चक्रवाती सिस्‍टम के चलते देश में इसका असर तेज बारिश के रूप में देखने को मिल सकता है। ताजा अनुमान है कि देश के 5 राज्‍यों में भारी से भी अति भारी बारिश का खतरा है। अगले 24 घंटों के दौरान आंतरिक कर्नाटक, रायलसीमा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, तटीय ओडिशा, गंगीय पश्चिम बंगाल, मिजोरम, त्रिपुरा में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश के साथ एक-दो स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। अगले 24 घंटों के दौरान, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलमनाडु, तटीय कर्नाटक, केरल, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, और दक्षिणी राजस्थान के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होगी। अगले 24 घंटों के दौरान, आंतरिक Karnataka, Rayalaseema, तटीय AndhraPradesh, Telangana, तटीय Odisha, Gangetic WestBengal, izoram, Tripura पर भारी से मध्यम बारिश होने की संभावना है। भारतीय मौसम विभाग IMD ने पूर्वानुमान एवं अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि 22 वीं और 23 अक्टूबर, 2020 पश्चिम बंगाल में तटीय ओडिशा के ऊपर भी भारी वर्षा की संभावना है। इसके अलावा, 22 और 23 तारीख को नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में भारी वर्षा के साथ भारी से बहुत भारी वर्षा हो सकती है। मछुआरों को सलाह दी जाती है कि वे 22 तारीख तक बंगाल की खाड़ी में न जाएं। इसके अलावा उत्तर आंतरिक कर्नाटक और तमिलनाडु में 22 अक्टूबर, 2020 को तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक और रायलसीमा पर भी भारी से बहुत भारी बारिश की संभावना है। पिछले 24 घंटों के दौरान तटीय ओडिशा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, दक्षिणी मध्य प्रदेश, तटीय कर्नाटक, केरल, रायलसीमा और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह में हल्की से मध्यम बारिश हुई।

यहां जोरदार बारिश की चेतावनी

झारखंड में मौसम बदल रहा है। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर सक्रिय हो चुका है। अगले 24 घंटे के दौरान लो प्रेशर के डीप डिप्रेशन में बदलने का अनुमान है। डीप डिप्रेशन चक्रवात का छोटा रूप है, जिससे तेज हवा के साथ झमाझम बारिश हो सकती है। धनबाद समेत उत्तर पूर्वी जिलों में 22 और 23 अक्टूबर को बारिश की संभावना बन रही है। इसके बाद मौसम साफ हो जाएगा। मौसम केंद्र रांची के विज्ञानी अभिषेक आनंद के अनुसार, 22 और 23 अक्टूबर को बादल गरजने और बिजली गिरने का भी खतरा बना रहेगा।

तेलंगाना में बाढ़ से हुए नुकसान का जायजा लेगी केंद्रीय टीम

हैदराबाद, तेलंगाना में बाढ़ से हुए नुकसान का आकलन करने के लिए पांच सदस्यों की केंद्रीय टीम राज्य का दौरा करेगी। इस बीच, मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि शहर में टैंकों और झीलों में कोई दरार न हो। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किशन रेड्डी ने बुधवार को ट्वीट के जरिये केंद्रीय टीम के तेलंगाना दौरे का एलान किया। सिकंदराबाद से लोकसभा सदस्य रेड्डी ने पिछले सप्ताह बारिश की शुरुआत में ही कई प्रभावित इलाकों का दौरा किया था। भारी बारिश के चलते राज्य में अब तक 70 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 5,000 करोड़ से अधिक की संपत्ति का नुकसान होने की आशंका है। बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत कार्य और मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप प्रत्येक परिवार को 10,000 रुपये की आर्थिक सहायता देने का काम बुधवार को भी जारी रहा।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस