नई दिल्ली। देशभर में इन दिनों प्रचंड गर्मी पड़ रही है और कई राज्यों में तो पारा 47 डिग्री के पार जा चुका है। मौसम विभाग ने उत्तर भारत के कुछ राज्यों में लू को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है। इस गर्मी से फिलहाल तो नहीं लेकिन आने वाले दिनों में राहत मिलने वाली है। उत्तर भारत के लोगों को भीषण गर्मी से 28 मई के बाद थोड़ी राहत मिल सकती है। 29 और 30 मई को इस क्षेत्र में धूलभरी आंधी के साथ ही गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को यह जानकारी दी।

दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से भीषण गर्मी पड़ रही है। पारा 47 डिग्र्री सेल्सियस को भी पार कर गया है। सोमवार को राजस्थान के चुरू में सबसे ज्यादा 47.5 डिग्री सेल्सियस और उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में 46.3 डिग्र्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान 44 डिग्र्री सेल्सियस रहा।

IMD ने रविवार को उत्तर भारत के लिए रेड अलर्ट जारी करते हुए कहा था कि 25-26 मई को और तेज गर्मी पड़ सकती है। रेड अलर्ट तब जारी किया जाता है जब 47 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा तापमान रहने का अनुमान होता है। इसके जरिए लोगों को सतर्क भी किया जाता है कि वो दोपहर एक से पांच बजे के बीच घर से बाहर नहीं निकले, क्योंकि इस दौरान सबसे ज्यादा गर्मी होती है।

IMD के क्षेत्रीय प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि पश्चिमी विक्षोभ और पुरवैया हवाओं के चलते 29-30 मई को दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में धूलभरी आंधी चलने के साथ ही गरज के साथ बारिश हो सकती है। इस दौरान 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है, इससे तपती गर्मी से राहत मिलेगी।

पश्चिमी विक्षोभ भूमध्य सागर से पैदा होने वाला चक्रवाती तूफान है जो मध्य एशिया तक आता है। यह चक्रवाती तूफान जब हिमालय से चलने वाली ठंडी हवाओं से टकराता है तो पहाड़ों के साथ ही मैदानी इलाकों में भी बारिश होती है।

IMD ने अपनी दैनिक बुलेटिन में कहा कि हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पूर्वी मध्य प्रदेश और विदर्भ के क्षेत्र में 25-27 मई के दौरान गर्म हवाएं चलेंगी और कहीं-कहीं चिलचिलाती गर्मी पड़ने की भी संभावना है।

पंजाब, ओडिशा के भीतरी क्षेत्रों, गुजरात, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, आंध्र प्रदेश के भीतरी क्षेत्रों, तेलंगाना, बिहार और झारखंड में भी अगले दो से तीन दिन तक तपती गर्मी से राहत नहीं मिलने वाली। उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों, मध्य भारत और पूर्वी भारत के भीतरी क्षेत्रों में चलने वाली शुष्क उत्तर-पश्चिमी हवाओं के चलते इन क्षेत्रों में 28 मई से पहले गर्मी अपनी चरम पर होगी।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020