भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा है कि दक्षिण-पश्चिम मानसून उत्तरी अरब सागर, गुजरात, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ गया है। शुक्रवार को यह बंगाल की उत्तरी खाड़ी के अधिकांश हिस्सों और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों तक पहुंच गया है। इसकी वजह से अगले 5-6 दिनों में ओडिशा, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, मध्य प्रदेश, विदर्भ और तेलंगाना में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा IMD ने मध्य प्रदेश के 11 जिलों में आंधी के साथ भारी बारिश की आशंका जताते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग के मुताबिक महाराष्ट्र, केरल और कर्नाटक में 11 जून से 15 जून के दौरान भारी से बहुत भारी वर्षा होगी। देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में बुधवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून के दस्तक देने के बाद से ही लगातार बारिश जारी है। 13 जून और 14 जून को वर्षा की उच्च तीव्रता के साथ 11 से 15 जून के दौरान कोंकण और गोवा में अलग-अलग अत्यधिक भारी वर्षा की भी बहुत संभावना है। 12 जून को ओडिशा में 20 सेमी से अधिक वर्षा होगी, जबकि 12 जून और 13 जून के दौरान छत्तीसगढ़ में, 13 जून और 14 जून को पूर्वी मध्य प्रदेश में और 12 जून और 13 जून को विदर्भ में बारिश होने की संभावना है।

मौसम विभाग ने अगले 4-5 दिनों के दौरान बिहार, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में व्यापक बारिश का अनुमान लगाया है। IMD ने कहा कि वे 11 जून से 14 जून तक पूरे उत्तर-पश्चिम भारत (राजस्थान को छोड़कर) में छिटपुट वर्षा, और 12 और 13 जून को भारी बारिश हो सकती है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags