मुकुल रॉय बीजेपी छोड़कर एक बार फिर टीएमसी में वापस चले गये हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। उनसे साथ-साथ उनके बेटे सुभ्रांशु रॉय भी TMC में दुबारा शामिल हो गये। मुकुल रॉय नवम्बर 2017 में टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए थे। पिछले कई दिनों के कयास के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से आज लंबी चर्चा के बाद उन्होंने फिर से पार्टी का दामन थाम लिया।

इस बात के कयास काफी दिनों से लगाये जा रहे थे कि मुकुल रॉय वापस अपनी पुरानी पार्टी में लौट सकते हैं। बीते दिनों कोलकाता में आयोजित भाजपा की बैठक में मुकुल राय नहीं पहुंचे थे। इसके बाद ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी मुकुल रॉय और उनकी पत्नी को देखने अस्पताल पहुंचे थे। दूसरी ओर विधानसभा चुनाव के बाद ममता बनर्जी अपनी पार्टी से गये साथियों को वापस लाने की कोशिश में जुटी हुुई थीं।

क्यों वापस गये मुकुल रॉय?

दरअसल मुकुल रॉय ने जिन उम्मीदों के साथ पार्टी छोड़ी थी, वो बीजेपी में रहने के दौरान पूरी नहीं हो सकी। बीजेपी ने उन्हें विधानसभा चुनावों से पहले राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तो बनाया, लेकिन चुनाव के दौरान उनकी कोई खास भूमिका नहीं रही। पुराने नेता होने के बावजूद वो कभी सुवेंदु अधिकारी की तरह आक्रामक नहीं रहे। इस वजह से पार्टी में उनकी अहमियत और पूछ कम होती गई। पिछले 4 सालों में धीरे-धीरे बीजेपी में उनकी भूमिका सिमटती गई और शुवेंदु अधिकारी की पूछ बढ़ती रही। उनकी आखिरी उम्मीद थी कि अगर बीजेपी सत्ता में आ जाए, तो उन्हें कोई बड़ा पद मिल जाएगा। लेकिन पार्टी की हार के साथ ये संभावना भी खत्म हो गई। ऊपर से बीजेपी ने उनसे जूनियर रहे शुवेंदु अधिकारी को नेता विपक्ष का पद दे दिया। इसके बाद उनके पास बीजेपी में बने रहने की कोई वजह नहीं बची थी।

दूसरी ओर कभी पार्टी में नंबर दो के नेता रहे मुकुल रॉय के लिए TMC में अब ज्यादा संभावनाएं हैं। शुवेंदु अधिकारी के जाने का बाद अब वो मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के सबसे करीबी नेता होंगे। वहीं TMC के उत्तराधिकारी अभिषेक बनर्जी को भी इनसे कोई शिकायत नहीं है। ऐसे में TMC में वापसी से ना सिर्फ उनका रुतबा बढ़ेगा, बल्कि सत्ता, सम्मान और बेटे का भविष्य भी बनता दिख रहा है। ऐसे में राजनीति के धुरंधर खिलाड़ी की वापसी को एक झटके में लिया गया फैसला नहीं मानना चाहिए।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags