MP Lockdown Photos : कोरोना से लड़ रहा मध्य प्रदेश, ऐसा है यहां लॉकडाउन का हाल

6 photos    |  Published Wed, 22 Apr 2020 11:39 AM (IST)
1/ 6पिता की तस्वीर से लिपटकर रो पड़ी बेटी
पिता की तस्वीर से लिपटकर रो पड़ी बेटी

कोरोना वायरस से लड़ते हुए अपने प्राण देने वाले उज्जैन के नीलगंगा थाने के टीआई यशवंत पाल का इंदौर के रामबाग मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार हुआ। इस दौरान बड़ी बेटी तस्वीर से लिपट कर फूटफूट कर रोने लगी। फोटो : प्रफुल्ल चौरसिया आशु

2/ 6इंदौर में क्वारंटाइन सेटर से लौटने वालों का स्वागत
इंदौर में क्वारंटाइन सेटर से लौटने वालों का स्वागत

इंदौर में क्वारंटाइन सेंटर से जब 30 लोग अपने घर टाटपट्टी बाखल लौटे तो ताली बजाकर उनका स्वागत किया गया। फोटो: राजू पवार

3/ 6बच्चों से सीखें ऐसे रखें सुरक्षित शारीरिक दूरी
बच्चों से सीखें ऐसे रखें सुरक्षित शारीरिक दूरी

जबलपुर में राशन वितरण के दौरान पहुंचे बच्चों की भी स्क्रीनिंग की गई। इन्हें भोजन देने से पहले हाथों को सैनिटाइजर से साफ करवाया गया। इस दौरान बच्चों ने सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन किया जो दूसरी के लिए एक सीख है।

4/ 6भोपाल में सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य परीक्षण
भोपाल में सुरक्षा में लगे पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य परीक्षण

भोपाल में पुलिसकर्मी कोरोना वायरस के शिकार बन रहे हैं, ऐसे में शहर में तैनात पुलिसकर्मियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। फोटो : निर्मल व्यास

5/ 6पात्रता पर्ची नहीं होने से जबलपुर में कई लोगों को नहीं मिला राशन
पात्रता पर्ची नहीं होने से जबलपुर में कई लोगों को नहीं मिला राशन

जबलपुर कलेक्टर कार्यालय में राशन से वंचित लोग पहुंचे, पात्रता पर्ची नहीं होने से राशन दुकान संचालक ने उन्हें राशन नहीं दिया तो चार घंटे कार्यालय में इंतजार किया। इसके बाद भी कोई अधिकारी उनसे मिलने नहीं पहुंचा।

6/ 6लॉकडाउन में मटके रख खरीददारों का इंतजार
लॉकडाउन में मटके रख खरीददारों का इंतजार

कोरोना वायरस महामारी के चलते देश भर में लॉकडाउन चल रहा है, सारे उद्योग धंधे, फैक्ट्री बंद हैं। ऑनलाइन बिजनेस भी बंद है। ग्वालियर में ऐसे में मिट्टी के मटकों को बाजार में रखकर खरीदारों का इंतजार करती महिलाएं। फोटो : विनोद पाल

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK