जयपुर। राजस्थान के दौसा में एक वकील हनी ट्रेप में फंस गया। आरोपियों ने उसका अपहरण कर फिरौती में 15 लाख रूप्ए मांगे, हालाकि पुलिस ने वकील को छुडा लिया और एक आरोपी को गिरफतार भी कर लिया। हनी ट्रेप में फंसाने वाली महिला और एक अन्य साथी की तलाश की जा रही है। पुलिस के अनुसार दौसा शहर के जावरा का बास में रहने वाले वकील रमेश सैनी शुक्रवार को कोर्ट जाने की बात कहकर घर से निकले थे। अपरान्ह 3 बजे रमेश सैनी के फोन से ही कुछ लोगों ने उनको बंधक बनाए जाने की सूचना दी और परिजनों से 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी।

परिजन मौके पर भी पहुंच गए लेकिन वहां रमेश सैनी नहीं मिले। इस पर परिजनों ने पुलिस में मामला दर्ज कराया। पुलिस ने तीन टीमें गंगापुर, सपोटरा और हिंडौन भेजी। 8 घंटे की मशक्कत के बाद अपहृत किए वकील को पुलिस ने छुडवा लिया और 15 लाख रुपए की फिरौती मांगने वाले आरोपी निरंजन गुर्जर को पकड़ भी लिया। पूछताछ में उसने बताया कि वह एक लड़की के साथ इसी तरह लोगों को फंसाने का काम करता है।

लड़की ने शुक्रवार को एडवोकेट को कोर्ट का काम होने की बात कहकर लालसोट कोर्ट में बुलाया था। उसके बाद वह उसे बातों में फंसा कर गंगापुर ले गई। वहां इसके अन्य साथियों ने उसे बंदी बना लिया। पुलिस ने अपने नेटवर्क और मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर लोकेशन ट्रेस कर वकील को तलाश लिया और उसे छुड़वा लिया। इस बीच लडकी और उसके साथी फरार हो गए। पुलिस इनकी तलाश कर रही है।

Posted By: Yogendra Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना