जोधपुर, 28 अगस्त। कोरोना के बाद अब जोधपुर में डेंगू ने भी दस्तक दे दी है। जोधपुर में एक ही दिन में डेंगू के 6 मामले सामने आए हैं, जिनमें 4 बच्चे भी शामिल हैं। हालांकि नए रोगी मिलने का आंकड़ा इससे भी अधिक हो सकता है, पर आधिकारिक रूप से केवल एलाइजा टेस्ट में पॉजिटिव आ रहे लोगों को ही डेंगू संक्रमित माना जा रहा है। एमजीएच, एमडीएम, उम्मेद अस्पताल, करीब 40-50 कार्ड टेस्ट प्रतिदिन हो रहे हैं।

शुक्रवार को मेडिकल कॉलेज में हुई जांच की आई रिपोर्ट में 6 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। गंभीर बात यह है कि इसमें 4 मरीज बच्चे और दो वयस्क हैं। 2 वयस्क में से 1 सेंट्रल जेल का बंदी है और एक 26 वर्षीय युवक बासनी निवासी है। इधर 4 बच्चों में 9 साल की बच्ची मंडोर निवासी, 13 साल की बच्ची कुड़ी भगतासनी हाउसिंग बोर्ड, 15 साल का बच्चा बासनी निवासी और 14 साल का बच्चा मदेरणा कॉलोनी निवासी है। इधर एम्स के मेडिसिन विभाग के डॉ. गोपाल बोहरा ने माना कि एम्स में डेंगू के कुछ मरीज आने लगे है। उन्होंने बताया कि अभी हमारे यहां टेलीमेडिसिन के माध्यम से मरीज आ रहे हैं इसलिए सीधे मरीज आने की बजाय इमरजेंसी के माध्यम से बुखार बदन दर्द आदि की शिकायत लेकर भर्ती हो रहे हैं।

जोधपुर के संपूर्णानंद मेडिकल कॉलेज के मेडिसिन विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉ. किशोरिया ने बताया कि जागरूकता की जरूरत है। मरीज अपने घरों पर ही स्वयं इलाज ना करें। बुखार, प्लेटलेट्स कम होने, शरीर में लाल चकत्ते होने, बदन दर्द, जोड़ों में दर्द आदि होने पर बिना डॉक्टरी सलाह के कोई दवा ना लें और अपने नजदीकी डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

Posted By: Shailendra Kumar