जयपुर। राजस्थान में जारी राजनीतिक उठापटक के बीच मायावती को बड़ा झटका लगा है। प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी के सभी 6 विधायकों ने पार्टी का साथ छोड़ते हुए कांग्रेस का दामन थाम लिया है। बसपा विधायकों ने सोमवार देर रात कांग्रेस की सदस्यता ली। इसके साथ ही प्रदेश की सियासत फिर गरमा गई है।

यह विधायक हुए कांग्रेस में शामिल

बहुजन समाज पार्टी को बड़ा झटका देते हुए बसपा विधायक राजेंद्र गुढ़ा, वाजिब अली, जोगेंद्र सिंह अवाना, लाखन सिंह मीणा, दीपचंद खेरिया और संदीप यादव ने कांग्रेस की सदस्यता ली।

बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने के बाद अब सरकार में विधायकों की संख्या बहुमत से 6 विधायक ज्यादा हो गई है। बता दें के बसपा विधायक अब तक कांग्रेस को बाहर से समर्थन दे रहे थे।

इस बार कांग्रेस को बहुमत नहीं मिल सका था। राजस्थान की 200 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस 99 पर रुक गई थी हालांकि उपचुनाव में यह आंकड़ा 100 को छू गया था।

कांग्रेस को मिली मजबूती

विधानसभा चुनाव में राजस्थान और मध्यप्रदेश में बहुमत के बेहद करीब पहुंच चुकी कांग्रेस को गठबंधन की बैसाखी का सहारा लेना पड़ा था। हालांकि राजस्थान में उपचुनाव में बहुमत का आंकड़ा छूकर कांग्रेस 200 सीट तक पहुंच गई थी।

मध्यप्रदेश में भी कांग्रेस को सरकार बनाने में काफी मशक्कत करना पड़ी थी। हालांकि अन्य दलों का समर्थन मिलने के बाद कांग्रेस सत्तारुढ़ हो गई। शुरुआती दौर में भाजपा ने कांग्रेस की सरकार गिराने की कोशिश की लेकिन कमलनाथ के मैनेजमेंट से भाजपा को झटका लगा था।

Posted By: Neeraj Vyas