जयपुर। आसाराम बापू यौन उत्पीड़न मामले में पीड़ित छात्रा के वकीलों ने जोधपुर जेल प्रशासन और आयुर्वेद विश्‍वविद्यालय पर मिलीभगत कर कथावाचक की मदद करने का आरोप लगाया है।

मंगलवार को जोधपुर हाई कोर्ट में परिवाद दायर कर अधिवक्ता प्रमोद वर्मा ने कहा कि आयुर्वेद चिकित्सक आसाराम को बीमार दिखा रहे हैं, जिससे वे कोर्ट में पेश नहीं हो सकें और उन्हें राहत मिलती रहे। इस याचिका पर पांच मई को सुनवाई होगी।

इससे पहले सुनवाई के दौरान बीमारी के नाम पर आसाराम नहीं पेश हुए। उनकी अनुपस्थिति में पीड़िता के बयान नहीं हो पाए। अभियोजन पक्ष ने कहा कि लगता है आसाराम में पीड़िता का सामना करने का नैतिक साहस नहीं बचा है और वह बार-बार तबीयत खराब होने का बहाना बना कर कोर्ट आने से बच रहे हैं।

सोमवार को आसाराम ने जेल में तबीयत खराब होने की शिकायत की। उनको सुबह ही करवड़ स्थित आयुर्वेद अस्पताल में भर्ती कर दिया गया, इससे कोर्ट में पेश हुई पीड़िता को वापस लौटना पड़ा।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket