जोधपुर (प्रे)। विवादास्पद कथावाचक आसाराम बापू के खिलाफ एक किशोरी के कथित यौन उत्पीड़न मामले में अभियोजन पक्ष ने स्थानीय अदालत में सोमवार को अपनी दलील पूरी कर ली। सरकारी वकील आरएल मीणा ने बताया कि अब बचाव पक्ष लड़की से 25 अप्रैल को जिरह करेगा।

उन्होंने बताया कि लड़की की गवाही 15 अप्रैल को पूरी हो गई थी, लेकिन सोमवार को केस से जुड़े फोटोग्राफ और वीडियो रिकॉर्डिंग की जोधपुर जिला एवं सत्र अदालत में सत्यापित की गई। मालूम हो कि 11 अप्रैल को लड़की बयान देते वक्त कोर्ट में भावुक हो गई थी। उसने कहा था कि जिस व्यक्ति पर उसने तथा उसके माता-पिता ने भरोसा किया, उसी ने उसके साथ अनैतिक कृत्य किया। लड़की ने पूर्व में पुलिस को दिए बयान को भी दोहराया।

हालांकि कोर्ट अभियोजन की पहली गवाह दिल्ली के कमला मार्केट पुलिस स्टेशन की एएसआई पुष्पलता से जिरह जारी रखेगा। लड़की ने इसी थाने में जीरो एफआईआर और अपना बयान दर्ज कराया था। अभियोजन द्वारा कुल 58 गवाहों की सौंपी गई सूची में से अब तक सिर्फ पांच ही कोर्ट में पेश हुए हैं।

आसाराम की तबीयत बिगड़ी

इस बीच, आसाराम की तबीयत अदालत कक्ष में प्रवेश करते ही बिगड़ गई। उन्हें वापस जेल ले जाया गया। जेल के डॉक्टरों द्वारा प्राथमिक जांच के बाद उन्हें आयुर्वेद विश्वविद्यालय के अस्पताल ले जाया गया। आसाराम यौन दुराचार के मामले में गत वर्ष 2 सितंबर से ही जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद हैं।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket