जयपुर। राजस्थान में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। एक पिता ने अपने तीन साल के बेटे को मारकर खुद आत्महत्या कर ली। भादसोड़ा थाना क्षेत्र के सांवलियाजी चौराहा स्थिति एक कॉलोनी में गुरुवार रात को पिता ने तीन साल के बेटे का गला दबाकर मार दिया और उसके शव को एक को निर्माणाधीन मकान के हौद में फेंक दिया। बेटे को मारने के बाद पिता ने मकान की तीसरी मंजिल पर बने बाथरूम में फंदे पर लटक कर जान दे दी। इस घटना का खुलासा शुक्रवार सुबह हुआ था।

मृतक की पहचान भीलवाड़ा के जवाहर नगर के रहने वाले विजेंद्र कुमार के रूप में हुई। तीन साल के बच्चे की पहचान बेटे दक्ष के रूप में हुई।

मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है जिससे हत्या और आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला। परिजनों से इस संबंध में पूछताछ में केवल यह बात सामने आई है कि गुरुवार से पिता और पुत्र लापता थे और रात भर घरवाले उन्हें ढूंढते रहे।

पुलिस को इस घटना के पीछे कोई पारिवारिक विवाद की आशंका है। पुलिस के मुताबिक यह पता चला है कि सालभर पहले विजेंद्र के साथ एक दुर्घटना हुई थी और पांव में फ्रैक्चर हुआ था, उसे रॉड भी लगी थी। इसके बाद से वह कोई काम-धंधा नहीं कर रहा था। पैर से वह लंगड़ाता था। अंदेशा है कि काम-धंधा न होने से वह डिप्रेशन में था।

बारिश से बचाता रहा..

जिस पिता ने बेटे की जान ले ली, उससे पहले वह उसे बारिश में भीगने से बचाता रहा। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज चेक किए जिसमें वह रात 11 से 1 बजे तक भादसाेड़ा की तिरुपति नगर काॅलाेनी में घूमता हुआ दिखता रहा। वह उसे गोदी में उठाकर घूमता रहा। बच्चे को बारिश से बचाने के लिए बाइक के सीट कवर से उसे ढंकता हुआ दिखा। उसने बच्चे का गला दबाकर उसे गहरे गड्ढे में पटक दिया, फिर कुछ ही दूर पर बन रहे मकान में जाकर फांसी लगा ली।

Posted By: Sonal Sharma