राजस्‍थान सरकार ने आज किसानों को बड़ी राहत का ऐलान किया है। प्रदेश की भूम‍ि विकास बैंक अब डिफॉल्‍टर किसानों का 50 प्रतिशत ब्‍याज माफ कर देगी। राज्‍य की अशोक गहलोत सरकार ने यह निर्णय लिया है। इससे ब्‍याज के तौर पर प्रदेश भर के हजारों किसानों के 239 करोड़ माफ होंगे। इसके अलावा भी उन्‍हें कई फायदे मिलेंगे। राजस्‍थान का सियासी संकट टलने के ठीक बाद सामने आए इस फैसले को किसानों का दिल जीतने के लिए उठाया गया कदम माना जा रहा है। सहकारी भूमि विकास बैंकों के डिफॉल्टर किसानों का राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार 50 फीसद ब्याज माफ करेगी। ब्याज के रूप में किसानों के 239 करोड़ रुपये माफ होंगे। सहकारिता मंत्री उदय लाल ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते किसानों को राहत देते हुए एकमुश्त समझौता योजना जारी की गई है।

किसानों का यह होगा फायदा

- योजना का लाभ लेने वाले किसानों को 30 नवंबर तक अपना ऋण चुकाना होगा।

- एक जुलाई 2019 तक के ऐसे कृषि और अकृषि ऋण, जिनकी अवधिपार हो चुकी है, वह इस योजना के दायरे में आएंगे। योजना के तहत ब्याज का 50 प्रतिशत तक माफ किया जाएगा।

- इसके साथ ही ऐसे अवधिपार ऋणी किसान, जिनकी मृत्यु हो चुकी है, उनके परिवार को भी बड़ी राहत दी जाएगी। इनका संपूर्ण बकाया ब्याज माफ किया जाएगा।

- वसूली खर्च भी पूरी तरह माफ कर उन्हें राहत दी जाएगी।

- सहकारिता मंत्री ने बताया कि प्रदेश में 36 प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंक हैं, जिनके जरिये किसानों को कृषि और उससे जुड़े कार्यों के लिए दीर्घकालीन कृषि ऋण दिया जाता है।

- सहकारी फसली ऋण से जुड़े करीब साढ़े तीन लाख अवधिपार ऋणी किसानों को अब राज्य सरकार ब्याजमुक्त ऋण भी देगी।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020