नईदुनिया ब्यूरो, जयपुर। दस महीने पहले 163 सीटों के प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में आई भाजपा को राजस्थान के उपचुनाव में तगड़ा झटका लगा है। राजस्थान में चार सीटों के उपचुनाव में तीन सीट कांग्रेस ने जीती है। भाजपा को सिर्फ एक सीट कोटा दक्षिण पर संतोष करना पड़ा है। कोटा दक्षिण में भी भाजपा की जीत का मार्जिन लगभग आधा रह गया है। विधानसभा चुनाव में भाजपा ने यह सीट लगभग 50 हजार वोटों से जीती थी, जबकि उपचुनाव में यह मार्जिन सिर्फ 25787 रह गया।

विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 163 सीटों का एतिहासिक बहुमत प्राप्त किया था। इसके बाद लोकसभा में भी सभी 25 सीटें भाजपा ने जीती थी। ऐसे में चार सीटों का यह उपचुनाव मोदी लहर पर सवार हो कर सत्ता में आई भाजपा के लिए बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा था। इस उपचुनाव को केन्द्र व राज्य सरकार के कामकाज का जनमत संग्रह माना गया था। अब उपचुनाव में भाजपा को करारी हार का सामना करना पडा है। भाजपा को ऐसी हार की उम्मीद कतई नहीं थी। कांग्रेस के लिए यह जीत संजीवनी का काम कर रही है। जीत के बाद कांग्रेस के खेमे में जबर्दस्त उत्साह का माहौल है। वहीं भाजपा आत्म चिंतन की बात कर रही है।

यह रहे परिणाम

कोटा दक्षिण में भाजपा के संदीपषर्मा ने कांग्रेस के शिवकांत नंदवाना को 25707 वोटों से हराया। उधर नसीराबाद में कांग्रेस के रामनारायण गुर्जर ने भाजपा की सरीता गैना को 386 वोटों से हराया। सूरजगढ में भाजपा के दिगम्बर सिंह कांग्रेस के श्रवण कुमार से 3270 वोटों से हार गए, वहीं वैर में भाजपा के गंगाराम कोली को कांग्रेस के भजनलाल जाटव से 25108 वोटों की करारी हाल मिली।

नसीराबाद पर फिर गणना

नसीराबाद में भाजपा ने मतगणना फिर से कराने की अर्जी दी है, जिसे स्वीकार कर लिया गया है। यहां कांग्रेस की जीत का अंतर 386 वोट का रहा है। परिणाम यहां अधिकृत रूप से घोषित नहीं किया गया था। भाजपा ने 14 से 22 राउंड की मतगणना फिर से कराने की मांग की है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket