Corona in Rajasthan: राजस्थान में सरकार ने कोरोना संक्रमण में सुरक्षित शारीरिक दूरी का कडाई से पालन कराने के लिए बारात, जुलूस या किसी भी तरह की सार्वजनिक सभा आदि पर प्रतिबंध लगा दिया है। राजस्थ्ज्ञान के गृह विभाग ने इस बारे में आदेश जारी किए है। गौररतलब है कि राजस्थान के सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने पर अब तक 63 हजार लोगों को चालान किया जा चुका है।

गृह विभाग के अतिरिक्त् मुख्य सचिव राजीव स्वरूप की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए सुरक्षित शारीरिक दूरी की पालना बहुत जरूरी है और इसके लिए सडक पर बारात, बारात या जुलूस के साथ डीजे बजाने और सडक पर किसी भी तरह की सार्वजनिक सभा, जुलूस या समारोह के आयोजन पर प्रतिबंध रहेगा। इसका उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। हालांकि यह छूट दी गई है कि यदि ऐसा कोई आयोजन बहुत जरूरी हो तो जिला मजिस्ट्रेट से लिखित मंजूरी जरूरी होगी।

गौरतलब है कि राजस्थान में विवाह समारोह में 50 से अधिक लोगों को आमंत्रित किए जाने पर पहले ही प्रतिबंध लगा हुआ है। इसके अलावा धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा भी लागू है, लेकिन अनलाॅक एक के बाद काफी संख्या में विवाह और अन्य कार्यक्रम शुरू हो गए हैं।

राजस्थान मे महामारी अधिनियम भी लागू है और इसके तहत अब तक सरकार मास्क नहीं पहनने, सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने आदि मामलों को लेकर 1.36 लाख चालान कर चुकी है और दो करोड 35 लाख रूपए का जुर्माना वसूल किया जा चुका है। इस अधिनियम के तहत सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने वाले ही 63 हजार लोग है, जिनका चालान किया गया है। सोशल डिस्टेसिंग को लेकर बरती जा रही लापरवाही को देखते हुए ही अब सरकार ने यह आदेश जारी किया है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना