जयपुर। राजस्थान पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जयपुर के जवाहर नगर इलाके में नकली दवा बनाने की फैक्ट्री पकडी है। यहां आयुर्वेद दवाइयों की आड में नकली दवा बनाई जा रही थी। दवाइयां बनाने का काम एक रिहायशी मकान में हो रहा था।

एडीजी (क्राइम) बीएल सोनी ने बताया कि पुणे स्थित फार्मा कंपनी आर्चीज लाइफ साइंस के प्रोपराइटर जयवीर यादव ने स्टेट क्राइम ब्रांच की विशेष टीम प्रभारी पुलिस निरीक्षक जितेन्द्र गंगवानी को सूचना दी थी कि उनकी फार्मा कंपनी के नाम व लोगो का इस्तेमाल कर नकली दवाइयां बनाई जा रही है। यह दवाइयां एस.राॅबर्ट फार्मा के ऑफिस में बनाई जा रही थी और महिलाओं के मासिक धर्म तथा लीवर टाॅनिक के नकली सिरप बनाए जा रहे थे।

सोनी ने बताया कि सूचना मिलने के बाद विशेष टीम को स्थानीय पुलिस के साथ मौके पर भेजा गया। पुलिस आरोपी नरेन्द्र सुखानी को लेकर मौके पर पहुंची तो मकान में आयुर्वेदिक दवाईयां बनाने की आड़ में विभिन्न तरह की मशीनों से अवैध रूप से एलोपैथिक दवाइयां बनती नजर आईंं। रिकाॅर्ड देखने पर आरोपी द्वारा महिलाओं के मासिक धर्म से जुड़ी एवं लीवर टाॅनिक के करीब 2000 सिरप आर्चीज लाइफ साइंस के नाम व चिन्ह से बनाकर आगरा स्थित एक फर्म को बेचना पाया गया।

पुलिस मौके से बिल बुक एवं स्टाॅक रजिस्टर जब्त कर फैक्ट्री संचालक आरोपी नरेन्द्र कुमार सुखानी (65) तथा इसके पार्टनर आगरा निवासी रविन्द्र प्रताप सिंह से पूछताछ कर रही है। मामले में पुलिस ने ड्रग एवं काॅस्मेटिक एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज की है। सोनी ने बताया कि बुधवार को जवाहर नगर थाना पुलिस ने आगरा में ग्रेस हाॅस्पिटल स्थित साक्षी मेडीकल स्टोर से 16 पैक तथा 3 खुले कार्टून आर्चीज लाइफ साइंस के नाम से निर्मित नकली दवाईयां जब्त भी की है और इस मामले में आगरा निवासी अरविन्द शर्मा को भी हिरासत में लिया है।

Posted By: Navodit Saktawat

fantasy cricket
fantasy cricket