जयपुर। राजस्थान में भीलवाड़ा जिले के चावंडिया गांव में चार माह की बच्ची का शव 14 घंटे तक अंतिम संस्कार का इंतजार करता रहा। दरअसल, बच्ची के स्वजनों को यह भ्रम हो गया कि वह कोरोना पॉजिटिव थी। उनका भ्रम दूर करने के लिए उपखंड अधिकारी को आना पड़ा। उन्होंने दो घंटे समझया फिर भी स्वजन और गांव वाले नहीं माने तो आखिर उन्होंने खुद बच्ची के शव को उठाया और गड्ढा खोदकर अंतिम संस्कार किया।

इस बच्ची का परिवार मुंबई रहता था और कुछ दिन पहले अपने गांव चावंडिया लौटा था। गांव में प्रवेश से पहले परिवार को करेडा उपखंड मुख्यालय पर क्वारंटाइन भी किया गया। यहां जांच में बच्ची के पिता पॉजिटिव आए। ऐसे में उन्हें अस्पताल भेज दिया गया जबकि बच्ची, उसकी बहन और मां को नेगेटिव आने पर गांव में होम क्वारंटाइन के लिए भेज दिया गया।

यह सारा घटनाक्रम बुधवार का है। इसी दिन शाम को बच्ची को डायरिया हुआ। गांव के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को पता लगा तो उन्होंने ब्लॉक के मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी को सूचित किया। वहां से गाड़ी आई और बच्ची को अस्पताल ले गई, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही बच्ची की मौत हो गई। बच्ची का शव वापस गांव भेज दिया गया।

उपखंड अधिकारी महिपाल सिंह ने बताया कि इसी दौरान गांव के लोगों के बीच सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हुआ, जिसमें एक व्यक्ति के बच्चे के पॉजिटिव होने की सूचना थी। इस व्यक्ति का नाम और बच्ची के पिता का नाम एक जैसा था। ऐसे में स्वजनों और गांववालों को यह भ्रम हो गया कि बच्ची कोरोना पॉजिटिव थी। स्वजन बच्ची की रिपोर्ट देखने पर अड़ गए।

महिपाल सिंह ने बताया कि हमारे नायब तहसीलदार ने स्वजनों को बच्ची की रिपोर्ट भी दिखा दी, लेकिन वे इस बात पर अड़े रहे कि प्रशासन लिखित में दे कि बच्ची नेगेटिव है। उन्होंने बताया कि गुरुवार सुबह मुझे इस बारे में सूचना मिली तो मैं मौके पर गया। स्वजनों को काफी समझाया कि डॉक्टर की रिपोर्ट पर्याप्त है, लेकिन वे नहीं माने।

अंततः मैं खुद घर के अंदर गया और बच्ची के शव को उठाकर लाया तथा अंतिम संस्कार की तैयारी की। तब जाकर स्वजनों और गांव वालों को भरोसा हुआ कि प्रशासन सच कह रहा है। इसके बाद स्वजन और गांववालों ने हमारा सहयोग किया और बच्ची का अंतिम संस्कार हो पाया।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना