जयपुर। कोरोना वायरस Covid-19 संक्रमण के कारण पूरी जुनिया में लोगों को बार-बार हाथ धोने और खुद को साफ रखने के लिए कहा जा रहा है। इससे ना सिर्फ वायरस से लड़ने में मदद मिलती है बल्कि आप बीमार भी नहीं होते। Covid-19 के संक्रमण से लड़ने में भले ही यह हाथ धोना काम आए लेकिन एक शख्स ऐसे हैं जो इसी आदत के कारण चुनाव हार चुके हैं। हम बात कर रहे हैं राजस्थान में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. चंद्रभान की। डॉ. चंद्रभान को हाथ धोने की यह आदत बरसों से है लेकिन इसी के चलते वे दुष्प्रचार का शिकार हो चुके हैं और चुनाव भी हार चुके है। उनके विरोधी प्रचार करते थे कि आम आदमी से हाथ मिलाने के बाद चंद्रभान हाथ धोते है।

डॉ.क्टर चंद्रभान खुद एमबीबीएस डॉक्टर है और राजस्थान में वे कांग्रेस की पिछली सरकार के दौरान पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। मौजूदा अध्यक्ष सचिन पायलट से पहले वे ही अध्यक्ष थे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में उनकी गिनती होती है। उनके हाथ धोने की आदत की चर्चा पार्टी में हमेशा होती रही है।

चंद्रभान ने नई दुनिया से बातचीत में कहा कि कुछ दिन पहले एक शादी में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मिले थे, तो उन्होंने भी कहा था कि आपकी बार-बार हाथ धोने की आदत तो अब राष्ट्रीय कार्यक्रम बन गई है। चंद्रभान ने कहा कि चुनाव में भी मुझे लोगों से इस बात के लिए काफी आलोचना झेलनी पडती थी। मेरे विरोधी यह प्रचार करते थे कि चंद्रभान आम आदमी के साथ हाथ मिलने के बाद हाथ धोते है।

चंद्रभान ने कहा कि यह मेरी आदत है और आज से नहीं तब से जब मैं एमबीबीएस की पढाई कर रहा था। तब से यह आदत लगातार बनी हुई है। आज भी मैं दिन में औसतन 15 से 20 बार हाथ धोता हूं। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक जीवन में हमें सब तरह के लोगों से मिलना पडता है और यही एक तरीका है जिससे हम खुद की सुरक्षा कर सकते है। यह एक अच्छी आदत है, जिसे हम सब को अपनाना चाहिए। आज तो यह बात साबित भी हो रही है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

fantasy cricket
fantasy cricket