जयपुर। दिल्ली में वकीलों और पुलिस के बीच हुए विवाद में घायल हुए पुलिसवालों की मदद के लिए राजस्थान की झुंझुनूं पुलिस के जवान आगे आए है। झुंझुनूं के पुलिस अधिकारियों और पुलिसकर्मियों ने अपने दिल्ली के साथियों के लिए एक ही दिन में ढाई लाख रुपए एकत्र कर लिए। अब यह राशि एक पुलिस अधिकारी के जरिए दिल्ली में घायल कांस्टेबलों को दी जाएगी। झुंझुनू के पुलिस अधीक्षक गौरव यादव ने इस बारे में पहल की और 50 हजार रुपए एकत्र करने का लक्ष्य रखा, लेकिन मामला 50 हजार से ढाई लाख तक जा पहुंचा और एक ही दिन में यह इतनी राशि एकत्र हो गई। अब किसी अधिकारी को दिल्ली भेजा जाएगा जो दिल्ली पहुंचकर सीधे घायल पुलिसकर्मियों को यह नगद मदद देंगे।

गौरतलब है कि राजस्थान पुलिस अधिकारियों की एसोसिएशन ने भी वकीलों और पुलिस के बीच हुई घटना की निंदा की थी और इस बारे में एक वक्तव्य जारी कर दोषियों के खिलाफ कर्रवाई करने की मांग की थी।

तीन नवंबर का हमारा आदेश स्वत: स्पष्ट : हाई कोर्ट

बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और जस्टिस सी. हरि शंकर ने तीन नवंबर के अपने आदेश पर स्पष्टीकरण की मांग वाली गृह मंत्रालय की याचिका को खारिज कर दिया। कोर्ट ने कहा कि आदेश स्वत: स्पष्ट है। इसमें कहा गया था कि वकीलों के खिलाफ कोई दंडनीय कार्रवाई नहीं की जाए। इस पर मंत्रालय ने कोर्ट से पूछा था कि यह आदेश दो नवंबर को तीस हजारी कोर्ट के बाद की घटनाओं पर लागू होगा या नहीं? क्योंकि चार नवंबर को साकेत कोर्ट के बाहर एक सिपाही व एक नागरिक पर कथित तौर पर वकीलों ने हमला किया था। इस संबंध दो अलग एफआईआर दायर की गई हैं।

Posted By: Navodit Saktawat