जोधपुर, 7 जून। जोधपुर रेल मंडल ने बिना मॉस्क लगाये ट्रेन में यात्रा करते हुए पाये जाने वाले 1700 रेल यात्रियों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए उनसे 1 लाख 78 हजार रुपये जुर्माना वसूला है। उत्तर पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ जनसम्पर्क अधिकारी श्री गोपाल शर्मा ने बताया कि रेलयात्रा के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुपालन के संबंध में रेलवे प्रशासन द्वारा सख्त कदम उठाये जा रहे हैं। मंडल रेल प्रबन्धक गीतिका पाण्डेय के निर्देशानुसार रेल में यात्रा करने के दौरान फेस मास्क नहीं लगाये जाने या गलत तरीके से लगाने वाले रेलयात्रियों से रेलवे प्रावधानों के तहत जुर्माना राशि वसूल की जा रही है। कोरोना की दूसरी लहर के प्रभाव के बीच इस संबंध में सहयात्रियों से शिकायतें प्राप्त हो रही थी। रेल यात्रा के दौरान यात्रियों के स्वास्थ्य की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी से यात्रा के दौरान लगातार मॉस्क लगाये रखने के निर्देश दिये गये हैं। इसका उल्लंधन करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

मई महीने में इसी के अनुपालन में उत्तर पश्चिम रेलवे के जोधपुर मंडल पर चलने वाली विभिन्न रेलगाड़ियों में 1700 यात्रियों को बिना मास्क यात्रा करते पकड़ा गया। मंडल रेल प्रबंधक गीतिका पांडे के निर्देश पर गाड़ियों में मंडल के टिकट चेकिंग स्टाफ द्वारा सघन जांच करते हुए जोधपुर से चलने व गुजरने वाली गाड़ियों में एक महीने में बिना व गलत तरीके से मास्क पहनकर यात्रा करने वालों से एक लाख अठत्तर हजार रूपये का जुर्माना वसूल किया गया ।

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक धीरूमल के अनुसार रेलवे बोर्ड द्वारा रेल यात्रियों में मास्क के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से विशेष अधिनियम लागू किया गया है। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए यात्रियों को रेल यात्रा के दौरान मास्क पहनकर यात्रा करने के लिये टिकट चेकिंग स्टाफ द्वारा जागरूक किया जा रहा है और लापरवाही बरतने वाले यात्रियों से जुर्माना वसूल किया गया है।

रेलवे प्रशासन द्वारा रेलयात्रियों से रेलवे परिसर में तथा रेल यात्रा के दौरान उचित तरीके से मॉस्क लगाये रखने की अपील की गई है। रेलवे प्रशासन द्वारा उचित तरीके से मॉस्क नहीं लगाने वाले यात्रियों के खिलाफ चलाया जा रहा अभियान निरंतर जारी रहेगा। उल्लेखनीय है कि रेल परिसर और रेलगाड़ियों में बिना मास्क यात्रा करते पाए जाने पर 100 से लेकर 500 रूपये तक के जुर्माने का प्रावधान है।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags