जयपुर (ब्यूरो)। विधानसभा चुनाव से पहले राजस्थान में तीसरी ताकत के रूप में उभर रही राष्ट्रीय जन पार्टी (राजपा) ने गुरुवार को राजधानी जयपुर में विजय संकल्प रैली की।

रैली में उमड़े लोगों के उत्साह के बीच दौसा सांसद डॉ. किरोड़ीलाल मीणा ने कहा, 'मैंने 36 साल तक भाजपा की सेवा की। वसुंधरा राजे ने मेरी 36 साल की तपस्या भंग कर दी। कांग्रेस भी कम नहीं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वसुंधरा राजे भ्रष्टाचार में एक-दूसरे के पूरक हैं और अब राजस्थान की जनता के सामने राजपा ही सबसे बड़ा विकल्प है, जो दोनों को सत्ता में नहीं आने देगी।"

मानसरोवर में हुई रैली में डॉ. किरोड़ी मीणा ने कहा कि वसुंधरा ने रैली की तो नरेंद्र मोदी को बुलाया, अशोक गहलोत ने रैली की तो सोनिया और राहुल गांधी को बुलाया। मेरा तो कोई आका नहीं है। मैं तो अकेला हूं। मेरा आलाकमान तो प्रदेश की जनता है। मेरे समर्थक नारा लगा रहे हैं कि अगला मुख्यमंत्री किरोड़ी होगा, लेकिन मैं कहना चाहता हूं कि मुख्यमंत्री तो नहीं, हां, संतरी बनकर आपकी सेवा करना चाहता हूं।

मिले हुए हैं भाजपा-कांग्रेस

डॉ. किरोड़ी ने कहा कि मेरे पास पैसा भ्रष्टाचार का नहीं। एक भी पैसा ऐसा मिल जाए तो राजनीति छोड़ दूंगा। सब जानते हैं दोनों ही पार्टियां एक-दूसरे के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले उजागर कर रहे हैं, ब्लैक पेपर जारी कर रहे हैं। भैरोंसिंह शेखावत ने तो वसुंधरा के खिलाफ अशोक गहलोत से 32 हजार करोड़ रुपए के घोटाले की जांच की मांग की थी। दोनों पार्टियां मिली हुई है।

मैं अंगूठा छाप: गोलमा देवी

पूर्व मंत्री एवं राजपा प्रदेशाध्यक्ष गोलमा देवी ने कहा कि मैं अंगूठा छाप हूं। पढ़ना नहीं जानती। लिखना नहींजानती। मुझे तो जनता ने बोलना सिखा दिया। मैंने तो खेती-बाड़ी की राजनीति नहीं की। अब राजनीति में आई तो सारी बात समझ में आई। दोनों ही पार्टियों ने 5-5 साल राज कर जनता को लूटा है। रैली को पूर्व केंद्रीय मंत्री अरविंद नेताम, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेशाध्यक्ष चारूने संबोधित किया। रैली में बड़ी संख्या में जनजातीय क्षेत्र के लोग परंपरागत वेशभूषा में नजर आए।

इतनी भीड़ कभी नहीं देखी: अगाथा

पूर्व केंद्रीय मंत्री अगाथा संगमा ने कहा कि मेरे पिता को राजस्थान से विशेष प्यार है। वे रैली में आना चाहते थे, लेकिन नहीं आ सके। अगाथा संगमा ने बताया कि पिता संगमा की तबीयत खराब है, इसलिए उन्हें यहां नहीं आने का दुख है। इसलिए मैं उनका संदेश देने को आई हूं। संगमा ने कहा कि मैंने अपनी लाइफ में इतनी भीड़ पहले कभी नहीं देखी।

Posted By: