जयपुर। राजस्थान के बीकानेर में अब कोई अधिकारी-कर्मचारी किसी विवाह समारोह में शामिल होता है तो यह जासूसी भी करनी होगी कि वहां 50 से ज्यादा आदमी तो नहीं है। 50 से ज्यादा मेहमान होने पर सम्बन्धित अधिकारी-कर्मचारी को तुरंत सम्बन्धित उपखण्ड अधिकारी को सूचित करना होगा। दरअसल राजस्थान में कोरोना संक्रमण केचलते विवाह समारोह में 50 से अधिक लोगों को बुलाए जाने पर पाबंदी है। इस बारे में राजस्थान के गृह विभाग ने आदेश जारी किया हुआ है। पहले विवाह कराने के लिए उपखण्ड अधिकारी की अनुमति भी जरूरी थी, जिसे अब हटा लिया गया है। साथ ही राज्य में सामाजिक, धार्मिक समारोह और सांस्कृतिक समारोह के आयोजन करने पर भी बैन लगा हुआ है। कोई भी व्यक्ति शादी समारोह में सार्वजनिक सड़क पर डीजे या बैंड बाजे का उपयोग भी नहीं कर सकता।

इसी आदेश के आधार पर अब बीकानेर के जिला कलक्टर नमित मेहता ने जिले के अधिकारियों कर्मचारियों के लिए यह अजीब आदेश निकाल दिया है। आदेश में कहा गया है कि जिले में पदस्थापित यदि कोई अधिकारी और कर्मचारी किसी विवाह समारोह में शामिल होता है तो उसमें 50 से अधिक व्यक्ति शामिल होते हैं तो इसकी तत्काल सूचना उपखंड अधिकारी या जिला नियंत्रण कक्ष को देनी होगी।

यदि कोई अधिकारी कर्मचारी विवाह में सम्मिलित होते हुए भी सूचना नहीं देता है तो उसके खिलाफ विधिक प्रावधानों के तहत सरकार कार्रवाई करेगी। दरअसल बीकानेर में पिछले कुछ दिनों में कोरोना पाॅजिटिव मामलों में तेजी से बढोतरी हुई है। एक समय बीकानेर मुक्त हो गया था, लेकिन अब यहां 300 एक्टिव केस है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020