नई दिल्ली। जोधपुर के आश्रम में नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी कथावाचक आसाराम को सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को जमानत तो नहीं दी। लेकिन, खराब स्वास्थ्य की दलील पर आसाराम के स्वास्थ्य की जांच के लिए मेडिकल बोर्ड गठित करने का निर्देश जरूर दिया है। मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट आने के बाद कोर्ट 23 सितंबर को आसाराम की जमानत पर सुनवाई करेगा।

आसाराम पिछले एक वर्ष से जेल में हैं। जोधपुर आश्रम में नाबालिग से दुष्कर्म के आरोप में पिछले साल 31 अगस्त को उनकी गिरफ्तारी हुई थी। मंगलवार को आसाराम के वकील ने उनकी 76 वर्ष की आयु और खराब स्वास्थ्य के आधार पर जमानत देने की मांग की। लेकिन, राजस्थान सरकार और पीड़ित पक्ष के वकीलों ने इसका जोरदार विरोध किया। उनका कहना था कि अभी पीड़िता के माता-पिता और डॉक्टर की गवाही नहीं हुई है।

न्यायमूर्ति टीएस ठाकुर की अध्यक्षता वाली पीठ ने सभी पक्षों की बहस सुनने के बाद एसएन मेडिकल कालेज के सुपरिंटेंडेंट को निर्देश दिया कि वे आसाराम के स्वास्थ्य की जांच के लिए मेडिकल बोर्ड गठित करें और 23 सितंबर तक कोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंपे।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket