जयपुर। राजस्थान की राजधानी में जयपुर में इस वर्ष दिसंबर तक मदर मिल्क बैंक शुरू हो जाएगा। यह मिल्क बैंक जयपुर के महिला चिकित्सालय में बनाया जाएगा। राज्य सरकार ने इसमें तकनीकी सहयोग के लिए नॉर्वे से करार किया है।

जयपुर में मदर मिल्क बैंक की कवायद करीब डेढ़ साल से चल रही है, लेकिन किसी न किसी कारण से इसमें देरी हो रही थी। पिछले दिनों एक बैठक में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इसका काम जल्द से जल्द पूरा कराने के निर्देश दिए थे। इसके बाद काम में तेजी आई। हालांकि अभी भी यह तय समय से देरी से पूरा हो रहा है। बैंक के लिए तकनीकी सहयोग नॉर्वे से लिया जा रहा है और मशीनें ब्रिटेन से मंगाई गई है।

इस मिल्क बैंक के लिए उन महिलाओं से मदर मिल्क लिया जाएगा, जिनके नवजात बच्चे की मौत हो जाती है। इसके अलावा अन्य महिलाएं भी यदि दूध देने के लिए तैयार होंगी तो उनका सहयोग लिया जाएगा। अधिकारियों का कहना है कि इससे उन बच्चों को बचाया जा सकेगा, जिन्हें किसी कारण से मां का दूध नहीं मिल पाता।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket