अजमेर। विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में अब रात के समय इबादत करने के लिए 5 स्थान तय किए गए हैं। अब खादिम और अकीदतमंद रात के समय दरगाह में इन 5 तय स्थानों पर ही इबादत कर सकेंगे। अब तक दरगाह में कहीं भी बैठकर इबादत की जा सकती थी।

दरगाह कमेटी के अध्यक्ष आमीन पठान ने बताया कि रात 11 से सुबह चार बजे तक दरगाह परिसर में अहाता-ए-नूर, पांयती गेट, जन्नती दरवाजा, शाहजहानी मस्जिद और संदल खाना मस्जिद में ही इबादत की जा सकेगी। इन पांच स्थानों के अलावा अन्य किसी स्थान पर बैठना, रात्रि विश्राम व अन्य कार्य करना बंद रहेगा।

उन्होंने बताया कि पिछले कु छ समय से शिकायत मिल रही थी कि रात्रि के समय दरगाह परिसर में असामाजिक तत्व सक्रिय रहते हैं। इस कारण सुरक्षा के लिहाज से यह निर्णय लिया गया है। दरगाह परिसर में 24 घंटे सुरक्षा गार्ड तैनात रहेंगे। उल्लेखनीय है कि दरगाह में देश-दुनिया से लोग जियारत करने के लिए आते हैं।

Posted By: Arvind Dubey