पाली। एटीए कार्ड का क्लोन बनाकर लोगों के अकाउंट्स से रुपए निकालने वाले हरियाणा के गिरोह के मुखिया को सदर थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ये शातिर आरोपी मशीन में लगे की-बोर्ड में आलपिन डालकर उसे लॉक करते और इस दौरान पैसे से निकालने वाले लोगों को मदद का झांसा देकर उनसे एटीएम लेकर छुपाई हुई कार्ड क्लोनिंग मशीन से कार्ड की क्लोनिंग कर लेते। क्लोनिंग से एटीएम कार्ड बनाकर बाद में अकाउंट से पैसे निकाल लेते। यह आरोपी लग्जरी गाड़ी में घूमता और हरियाणा सहित राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, पंजाब, दिल्ली में वारदात करता है।

एसपी आनंद शर्मा के मुताबिक जिस आरोपी ओमपाल सांसी को पकड़ा है वह हिसार के नारनोद इलाके खांडा खेदी गांव का रहने वाला है। फिलहाल वह हिसार के हांसी में रामसिंह कॉलोनी में रह रहा था।

पाली के सदर थाना क्षेत्र के सोनाई मांजी गांव के एटीएम से नेमाराम सीरवी के साथ ऐसा ही किया। लग्जरी कार में आए इसी आरोपी ने उसके अकाउंट से रुपए निकाले थे। 21 मई को नेमाराम एटीएम पैसे लेने गया था और वहां दो लोगों ने उसे बातों में उलझाया और एटीएम कार्ड ले लिया। चंद मिनट में कार्ड का क्लोन बना लिया और फिर उसके अकाउंट से 42 हजार रुपए निकाल लिए।

सदर थाने के प्रभारी सुरेश चौधरी के नेतृत्व में स्पेशल टीम बनाई गई। पुलिस की टीम ने छानबीन के बाद हिसार से गिरोह के सरगना को गिरफ्तार कर लाया।

ये रहती थी उनकी चाल

एटीएम में जाकर पहले एटीएम मशीन में लगे की-बोर्ड को आलपिन डालकर की-पेड लॉक कर देते। कोई एटीएम के अंदर आता और की-पेड नहीं चलता तो एटीएम में वे मदद की पेशकश करते और इसी दौरान कार्ड क्लोनिंग मशीन से कार्ड का क्लोन बनाते। उसके बाद क्लोन कार्ड से बैंक अकाउंट से पैसे निकाल लेते।

Posted By: Sonal Sharma