जयपुर। राजस्थान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की आखिर शनिवार को मुलाकात हो गई। पूनिया ने राजे के जयपुर स्थित निवास पर उनसे मुलाकात की। राजे ने स्वयं टवीट कर इस मुलाकात की जानकारी दी। सतीश पूनिया के अध्यक्ष बनने के बाद राजे और पूनिया की यह पहली मुलाकात थी।

दरअसल पूनिया के अध्यक्ष बनने के बाद से दोनों नेताओं की मुलाकात एक मुददा बना हुआ था। पूनिया के पदभार ग्रहण समारेाह में भी राजे नहीं पहुंची थी और इस दौरान पार्टी के लगभग सभी कार्यक्रमों और गतिविधियों से राजे ने दूरी बनाई हुई थी। वे दो सीटों के उपचुनाव के प्रचार से भी दूर रही और पार्टी की किसी बैठक या कार्यक्रम में भी शामिल नहीं हुई।

हालांकि राजे ने अध्यक्ष पद पर पूनिया की नियुक्ति के समय ही उन्हें बधाई दी थी और उनके पदभार ग्रहण समारोह में भी शुभकामना संदेश भेजा था। इसके बावजूद दोनों नेताओं के बीच मुलाकात न होना और राजे का पार्टी की किसी भी गतिविधि में हिस्सा न लेना चर्चा का विषय बना हुआ था।

शनिवार को लम्बे समय बाद राजे जयपुर में थी। हालांकि वे शुक्रवार को ही आ गई थी और एक कथावाचन कार्यक्रम में शमिल हुई थी और यहां भी दोनो नेताओ की मुलाकात हो गई थी, लेकिन शनिवार को पूनिया ने राजे के निवास पर जाकर उनसे मुलाकात की और उन्हें किरण बेदी की लिखी एक किताब “यह सम्भव है“ भी भेंट की।

इसके साथ ही राजे से आज पार्टी के कई कार्यकर्ता और नेता भी मिलने पहुंचे और दीपावली की शुभकामनाएं दी। उनके निवास पर दिन भर मिलने वालों की भीड़ देखी गई।

Posted By: Navodit Saktawat