Rajasthan: राजस्थान के कोटा जिले में चंबल नदी में बुधवार सुबह एक नाव पलट गई। नाव में क्षमता से ज्यादा लोग मौजूद थे और सामान भी रखा हुआ था। इस नाव में 35 लोग सवार थे। 19 लोगों को बचा लिया गया। अभी तक 12 शव बरामद हो चुके हैं जबकि 4 लोग लापता बताए जा रहे हैं। हालात को देखते हुए कोटा से डॉक्टरों की टीम बुलाकर मौके पर ही शवों का पोस्टमार्टम किया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार यह हादसा खातौली इलाके में सुबह 10 बजे के करीब हुआ। ग्रामीण नाव से कमलेश्वर धाम दर्शन के लिए जा रहे थे। नाव में क्षमता से ज्यादा लोग मौजूद थे और कई मोटरसाइकिलें भी रखी हुई थी। नदी में अचानक यह नाव पलट गई। नाव पर बुजुर्ग, महिलाएं और बच्चें भी सवार थे। कई लोग खुद तैर कर बाहर आए जबकि कई लोगों को ग्रामीणों ने बचाया। हादसे की सूचना मिलते ही प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई। लापता लोगों की तलाश के लिए अभियान चलाया जा रहा है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि इस नाव की हालत पहले से ही खराब थी। इसके बावजूद ज्यादा लोगों को बिठाया गया और भारी सामान भी रखा गया। इसके चलते नाव वजन सहन नहीं कर पाई और पलट गई।

कोटा के सांसद और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने प्रशासन से हादसे की जानकारी ली। कोटा से एसडीआरएफ की टीम घटनास्थल पर पहुंच चुकी है। मंत्री शांति धारीवाल ने राहत और बचाव कार्यों को तेजी से करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला और प्रदेश के स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने घटना पर दुख जताया है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags