जयपुर। यह कहानी फिल्‍मों जैसी लग सकती है लेकिन है सौ फीसदी सच। एक चुनाव ऐसा भी होने जा रहा है जिसमें पति-पत्‍नी और दो सगे भाई अपनी किस्‍मत आजमा रहे हैं। चुनावी मैदान में कुल जमा 8 प्रत्‍याशी हैं और इनमें भी चार तो आपस में रिश्‍तेदार ही हैं। दो मियां बीवी और दो भाई-भाई।

राजस्थान में पंचायत चुनाव में बूंदी की अरनेठा पंचायत में अनूठा चुनाव हो रहा है। यहां आठ प्रत्याशी सरपंच पद के लिए चुनाव मैदान में है, लेकिन इनमें चार आपस में करीबी रिश्तेदार हैंं। इनमें दो प्रत्याशी आपस में सगे भाई है, वहीं दो प्रत्याशी पति पत्नी हैंं। यहां 17 जनवरी को वोट पड़ने हैं।

राजस्थान के गांवों में इन दिनों पंचायत चुनाव की रौनक है और गांवों में सरपंच पद के लिए प्रत्याशियों का चुनाव प्रचार चल रहा है। पंचायत चुनाव के प्रथम चरण में प्रदेश की 87 पंचायत समितियों की 2,726 ग्राम पंचायतों में चुनाव होंगे। इसमें 26,800 वार्डों में पंच-सरपंच चुने जाएंगे।

पहले चरण का मतदान 17 को, दूसरे चरण का 22 को और तीसरे चरण का मतदान 29 जनवरी को होना है। इस चुनाव में कई तरह के रंग दिख रहे हैंं। इसी में से बूंदी जिले की अरनेठा पंचायत में अनोखा मुकाबला होता दिख रहा है।

दोनों भाई जी-जान से प्रचार में जुटे

यहां सरपंची के लिए दो सगे भाई और एक पति पत्नी चुनाव मैदान में है। अरनेठा ग्राम पंचायत में सरपंच पद के लिए 8 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इनमें दो सगे भाई छोटूलाल मेघवाल और बजरंगलाल मेघवाल भी शामिल हैं। छोटूलाल मेघवाल बीए पास हैं और मनरेगा के मेट है। वहीं बड़े भाई के सामने ताल ठोकने वाले छोटे भाई बजरंगलाल सातवीं पास हैं। वे ठेकेदारी करते हैंं। बताते हैं कि छोटूलाल ने नामांकन के दौरान अपने छोटे भाई बजरंगलाल से नाम वापिस लेने का अनुरोध किया था, लेकिन बात बनी नहीं। अब दोनों भाई जी जान से चुनाव प्रचार में जुटे हैं।

इसलिए लिखवाया पत्‍नी का नाम

इसी पंचायत में एक पति पत्नी भी चुनाव मैदान में हैंं। प्रत्याशियों में ही शामिल एक और बजरंगलाल मेघवाल हैं। उन्होंने अतिरिक्त सावधानी बरतते हुए अपनी पत्नी सुगना बाई का नामांकन भी भरवा दिया। निर्वाचन आयोग ने दोनों को चुनाव चिन्ह दे दिया। ऐसे में अब दोनों ही चुनाव मैदान में है। सुगना बाई भी प्रचार करती दिख रही है।

Posted By: Navodit Saktawat

fantasy cricket
fantasy cricket