जोधपुर,15 जुलाई। जोधपुर जिले के हरियाड़ा गांव में कुछ असामाजिक तत्वों ने लोकदेवता तेजाजी की प्रतिमा को खंडित कर दिया। इस प्रतिमा का दो माह पश्चात प्राण प्रतिष्ठा होना था। प्रतिमा खंडित होने की जानकारी मिलते ही मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्र हो गए। वहीं घटना की गंभीरता को समझते हुए आला प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस को तीन दिनों का अल्टीमेटम दिया है। आपको बता दें कि जोधपुर ग्रामीण के बिलाड़ा क्षेत्र के हरियाड़ा गांव के लोगों ने चंदा एकत्र कर वीर तेजाजी, माता पेमल, घोड़ी लीलण और नाग देवता की प्रतिमा बनवाई थी।

करीब पंद्रह लाख रुपए की लागत से तैयार इस प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा दो माह पश्चात प्रस्तावित थी। लेकिन इससे पहले ही कुछ असामाजिक तत्वों ने इन सभी प्रतिमाओं को खंडित कर दिया। प्रतिमा खंडित होने की जानकारी मिलते ही लोगों में रोष व्याप्त हो गया। पुलिस ने मामले में तत्परता दिखाते हुए एफएसएल व डॉग स्कवॉड सहित अपनी कुछ टीमों को मौके पर बुला जांच शुरू कर दी। अधिकारियों ने आक्रोशित लोगों से आग्रह किया कि वे उन्हें तीन दिनों का समय दें, इन तीन दिन में आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा। समाज के सभी वर्ग के लोगों ने बैठक कर पुलिस को तीन का समय देने पर अपनी सहमति जताई है।

लेकिन यदि तीन दिन में पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया तो सभी समुदाय के लोग बिलाड़ा में बैठक आयोजित कर आंदोलन की रणनीति तैयार करेंगे। ग्रामीणों ने कहा है कि आरोपियों से ही नई प्रतिमा का खर्च वसूला जाए, चाहे इसके लिए उनकी संपत्ति ही क्यों न बेचनी पड़े। यदि तीन दिन में पुलिस ने अपना वादा नहीं निभाया तो जिला स्तर पर बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा ।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags