जयपुर। राजस्थान के हनुमानगढ़ में छह साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरेापी को मरते दम तक कैद और उसकी मां को पांच वर्ष के कारावास की सजा दी गई है। जिले की पोक्सो कोर्ट के न्यायाधीश मशरूर आलम खान ने आरोपी हेमंत सोनी और उसकी मां कांता सोनी को सजा सुनाई है। यह घटना श्रीगंगानगर जिले के सादुलशहर में दिसम्बर 2015 में हुई थी। आरोपी हेमंत सोनी ने पड़ोस की 6 साल की मासूम बच्ची को घर ले जाकर उससे दुष्कर्म किया और दुपट्टे से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद बच्ची का शव कूलर में छिपा दिया था।

पुलिस को झांसा देने के लिए हेमंत परिजनों के साथ मिल कर बच्ची करे ढूंढने का नाटक करता रहा। वहीं हेमंत की मां कांता सोनी ने अपने बेटे का सहयोग करते हुए बच्ची के शव को घर में ही दफनाने का प्रयास किया था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो क्षेत्र में लगे सीसीटीवी फुटेज से इस पूरी घटना का खुलासा हुआ।

बाद में यह मामला काफी आगे बढ़ा और जिला बार संघ, श्रीगंगानगर ने इस मामले में हेमंत सोनी और उसकी मां की पैरवी करने से इंकार दिया। इस पर हाईकोर्ट ने यह मामला श्रीगंगानगर जिले से हनुमानगढ़ जिले में स्थानांतरित कर दिया।

इस मामले में पैरवी कर रहे अधिवक्ताओं ने हेमंत सोनी के लिए मृत्युदण्ड की मांग रखी थी, लेकिन कोर्ट ने उसे जीवन की अंतिम सांस तक और उसकी मां को 5 साल कड़ी कैद की सजा सुनाई है। कोर्ट ने हेमंत पर 25 हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया है।

Posted By: Navodit Saktawat