Weather update: राजस्थान की राजधानी जयपुर में गुरुवार रात से शुरू हुई जोरदार बारिश शुक्रवार को भी जारी रही। इसके चलते कई इलाकों में सड़कें दरिया जैसी दिखीं। शहर के निचले इलाके जलमग्न हो गए। मौसम विभाग ने जयपुर सहित कई शहरों के लिए भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है। शुक्रवार दिनभर हुई बारिश से शहर के जेएलएन मार्ग, जगतपुरा, दिल्ली रोड, टोंक रोड, सीकर रोड, सांगानेर, आगरा रोड पर जलभराव होने से आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ा। जयपुर से दिल्ली रोड पर रामगढ़ मोड़ पर पहाड़ी का हिस्सा गिर गया और यातायात जाम हो गया। शहर की निचली बस्तियों में भी पानी भर गया। शहर के सवाई मानसिंह अस्पताल की ओपीडी के हॉल में भी पानी आ गया। मौसम विभाग ने प्रदेश के तीन जिलों में अत्यधिक बरसात का अलर्ट और 23 जिलों में खासी बरसात का अलर्ट जारी किया है।

इन 27 जिलों के लिए चेतावनीः

17 अगस्त तक अजमेर, अलवर, बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, दौसा, धौलपुर, डूंगरपुर, जयपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाई माधोपुर, सीकर, सिरोही, टोंक, उदयपुर, चूरू, नागौर, पाली और जालौर में अत्यधिक बारिश हो सकती है।

सड़कों से पानी कम होने पर जयपुर में दिखा तबाही का मंजर

जयपुर में शुक्रवार को हुई जोरदार बारिश से दरिया बनी सड़कों से पानी जब कम हुआ तो शहर में कई जगह तबाही का मंजर नजर आया। गनीमत यह रही कि शनिवार को बारिश नहीं हुई और लोगों को अपना घर सामान संभालने का मौका मिल गया। हालांकि, राजस्थान के दूसरे कई हिस्सों में बारिश का दौर जारी रहा। जयपुर में शुक्रवार को करीब 10 घंटे तक पानी बरसा था। हालांकि, दोपहर बाद बारिश रूक गई थी। लेकिन, इस बीच कई बस्तियों में इतना पानी भर गया था कि लोग शनिवार को भी पम्प लगा कर पानी निकालते नजर आए। सबसे ज्यादा नुकसान कच्ची बस्तियों में हुआ। कई लोगों के घर तबाह हो गए। पहाड़ों से बहकर आई मिट्टी के कारण कई इलाकों में गाड़ियां और घर मिट्टी में दब गए।

दुकानों में पानी भरने से व्यापारियों को भी भारी नुकसान हुआ। बारिश सुबह के समय आई थी और व्यापारियों को अपना सामान निकालने का मौका ही नहीं मिला। ऐसे में सामान भीग गया। बारिश इतनी ज्यादा थी कि लगभग हर बाजार में घुटनों के ऊपर तक पानी भर गया था।

शनिवार को जयपुर में बारिश के मामले में राहत रही पर प्रदेश के कई इलाकों में बरसात का दौर जारी रहा। जोधपुर में पिछले छह घंटे में 43.9 मिमी बरसात हुई तो डबोक हवाई अड्डे पर पिछले छह घंटों में 15.6 मिमी रिकॉर्ड की गई। बाड़मेर, अजमेर में बरसात का दौर जारी रहा। पाली जिले के कई गांवों व कस्बों में रूक-रूककर बारिश का दौर चलता रहा। इससे कई नदियां व नाले उफान पर हैं।

बरसात का असर उच्च न्यायालय पर भी

जयपुर में हो रही बरसात का असर उच्च न्यायालय में भी देखने को मिला। बरसात की वजह से उच्च न्यायालय की दो बार बिजली चली गई। एक बार लंच से पहले जब बसपा से कांग्र्रेस में शामिल हुए विधायकों के मामले में वकील देवदत्त कामत अपना पक्ष रख रहे थे और दूसरी बार लंच के बाद सुनवाई शुरू होने के साथ ही पॉवर कट हो गया।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020