जयपुर। जयपुर में एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आयी है। यहां मंगलवार शाम एक विवाहिता की हत्या कर उसके 21 माह के बच्चे के अपहरण कर लिया गया था। महिला की हत्या के 23 घंटे बाद बच्चे का शव भी पुलिस को घर के नजदीक ही मिला है। मृतका का पति इंडियन ऑइल कंपनी में मैनेजर है और वह मूल रूप से दिल्ली का रहने वाला है। जयपुर के सागानेर इलाके में एक रिहायशी कॉलोनी में रहने वाले रोहित तिवारी की पत्नी श्वेता तिवारी की हत्या हो गई है। पुलिस के मुताबिक आखिरी बार श्वेता की मंगलवार सुबह 10 बजे कानपुर में रहने वाले अपने रिश्तेदार से बात हुई थी। इसके बाद पड़ोसियों ने उसे लगभग 2 बजे घर की बालकनी में देखा था।

नौकरानी ने देखा था शव

श्वेता की घर में ही हत्या कर दी गई थी। इसका खुलासा उस वक्त हुआ जब नौकरानी काम करने के लिए घर पहुंची थी। उसने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी। इसके बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची थी। बताया जा रहा है कि इसके बाद पड़ोसियों ने मृतका के पति को फोन लगाकर घटना की जानकारी दी थी।

पुलिस के मुताबिक घर से श्वेता का 21 महीने का बच्चा गायब था और उसका मोबाइल भी नहीं था। इस बीच रोहित ने पुलिस को बताया कि उसके मोबाइल पर श्वेता के मोबाइल नंबर से 30 लाख की फिरौती मांगने का मैसेज आया था। बता दें कि रोहित और श्वेता लगभग डेढ़ साल पहले ही जयपुर आए थे और यहां किराये के फ्लैट में रह रहे थे।

पुलिस को करीबी पर शक

इस पूरी घटना में मृतका के पति रोहित की भूमिका पुलिस को संदिग्ध लगी है। ऐसे में शक की सुई रोहित पर भी जा रही है। बताया जा रहा है कि दो दिन पहले पति पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। प्रतापनगर पुलिस स्टेशन के अधिकारी पुरुषोत्तम मेहरिया का कहना है कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और आरोपियों को पकड़ने के लिए डॉग स्कवॉड की मदद भी ली गई है।

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket