राजस्थान में जारी सियासी उठापटक के बीच Sachin Pilot ने अभी तक अपने पत्ते नहीं खोले हैं। कांग्रेस ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए Sachin Pilot को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद से हटा दिया, लेकिन पार्टी में बनाए रखा है। सचिन पायलट ने स्पष्ट कर दिया है कि वे भाजपा में शामिल नहीं हो रहे हैं और आगे की रणनिति पर काम कर रहे हैं। इस बीच राजस्थान विधानसभा स्पीकर ने सचिन पायलट समेत सभी 19 बागी कांग्रेस विधायकों को नोटिस जारी किया है।

इन सभी को पार्टी व्हिप का उल्लंघन करने पर यह नोटिस जारी किया गया है। इन्हें 17 जुलाई तक अपना रुख स्पष्ट करने को कहा है। यदि स्पीकर सीपी जोशी अब इनके जवाब से संतुष्ट नहीं हुए तो इनकी सदस्यता समाप्त की जा सकती है।

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सचिन पायलट को पार्टी में शामिल होने का निमंत्रण तो दिया है लेकिन सूत्रों के अनुसार सचिन पायलट अलग मोर्चा बनाने की तैयारी में हैं। भाजपा भी इस मामले में फूंक-फूंक कर कदम रख रही है। राजस्थान के भाजपा नेताओं ने कहा कि उनकी पार्टी के दरवाजे किसी भी व्यक्ति के लिए खुले हैं, जो उसकी विचारधारा पर भरोसा व्यक्त करते हैं। केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा, अगर कोई जनाधार वाला व्यक्ति भाजपा या किसी भी राजनीतिक दल में शामिल होता है, तो हर कोई उसका स्वागत करता है।

कांग्रेस पार्टी द्वारा उप मुख्यमंत्री पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट ने ट्वीट किया, 'सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं।' सचिन पायलट सर्मथक दो मंत्रियों को भी मंत्रीपद से हटाया गया है।

सचिन पायलट को मैसेज दिया गया कि यदि वे बगावत छोड़कर वापस आ जाए तो पार्टी उनकी शिकायतों पर गौर करेगी। उन्हें समय देने के लिए जयपुर में मंगलवार को विधायक दल की बैठक को टाला गया। इसके बावजूद जब सचिन पायलट अड़े रहे तो पार्टी ने उन्हें उप मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से हटा दिया गया।

30 विधायकों के समर्थन का दावा:

सचिन पायलट ने कुछ दिनों पहले 30 विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए बयान दिया था कि अशोक गहलोत सरकार अल्पमत में है। वैसे उनकी तरफ से जारी वीडियो में 16 विधायक ही नजर आए थे। यदि 30 विधायक भी उनके साथ अलग हुए तो गहलोत सरकार पर संकट नहीं

आएगा क्योंकि उनके पास 107 विधायक मौजूद है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020