जबलपुर। शहर से करीब 33 किमी दूर बरगी डैम रोड के गांव चौरई के कालीगढ़ एस्टेट में 7 साल में यह प्रतिमा बनकर तैयार हुई। इस स्थल को मां राज राजेश्वरी दक्षिणेश्वरी काली जी शक्तिपीठ नाम दिया गया है। मध्यप्रदेश की यह सबसे ऊंची प्रतिमा है। अभी तक बड़वानी जिले में आदिनाथ की 84 फीट की सबसे ऊंची प्रतिमा थी।

लागत- करीब 60 लाख रुपए की लागत से प्रतिमा तैयार हुई है। इसका निर्माण जनसहयोग से किया गया है। प्रतिमा निर्माण का कार्य कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर अमिताभ तिवारी और उनकी पत्नी कुसुम तिवारी की स्वप्रेरणा से शुरू कराया गया था।

समय- कुल 7 साल लगे

प्रतिमा बनाने की शुरुआत जबलपुर के दमोहनाका निवासी मूर्तिकार राजेश ने की थी, लेकिन बाद में अमिताभ तिवारी ने पन्‍ना निवासी तीन बंगाल के मूर्तिकार बुलवाए। इन्होंने शेष काम लगभग 10 माह में पूरा किया। प्रतिमा निर्माण में कुल 7 साल लगे। बीच में एक साल काम बंद रहा।

Posted By: