हरिद्वार। 17 जुलाई से शुरू हुई कांवड़ यात्रा अब अंतिम दौर में हैं। बड़ी संख्या में कांवड़ यात्री गंगा जल लेने हरिद्वार पहुंच रहे हैं। शिवरात्रि से एक दिन पहले सोमवार को तो हर की पौड़ी में आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। अब तक धर्मनगरी से तीन करोड़ 80 लाख कांवड़ यात्री गंगा जल लेकर गंतव्य स्थल को रवाना हो चुके हैं। मंगलवार को जलाभिषेक के चलते आसपास के ही कांवड़ यात्री जल लेने पहुंचेंगे। मंगलवार को जलाभिषेक के साथ ही कांवड़ मेले का समापन हो जाएगा।

श्रावण कांवड़ मेला 17 जुलाई से शुरू हुआ था। मेले के दो दिन बाद पंचक लगने के चलते पैदल कांवड़ यात्रियों की आमद कम रही। इन दिनों धर्मनगरी भगवा रंग में रंगी हुई है। चारों ओर बम-बम भोले के जयकारे गूंज रहे हैं। रविवार को तो हरकी पैड़ी पर भोले के भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा। दिल्ली, हरियाणा ओर पश्चिमी उप्र के डाक कांवड़ यात्रियों का जत्था पूरे दिन गंतव्यों की ओर तेजी से बढ़ता रहा। देर रात तक स्थिति बेकाबू हो गई। 18 से 20 घंटे के जाम में कांवड़ यात्री फंसे रहे। मेला प्रभारी और एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने बताया कि अब भी बड़ी संख्या में कांवड़ यात्री पहुंच रहे हैं। बुधवार तक यह आंकड़ा चार करोड़ के पार पहुंच सकता है।

Posted By: Yogendra Sharma

  • Font Size
  • Close