गया। महाबोधि मंदिर के शीर्ष पर लगा प्राचीन गुंबद अब स्वर्ण आच्छादित होगा। गुंबद को स्वर्ण का बनाने की जिम्मेवारी थाईलैंड के राजा भूमिबोलअतुल्यतेज ने उठाई है।

गुंबद में दो सौ नब्बे किलो सोना लगाया जाएगा। इस सोने को सोमवार को बैंकाक से एक विशेष विमान से गया इंटरनेशनल एयरपोर्ट 23 थाई कमांडों पुलिस की निगरानी में लाया गया। सोना 13 अलग-अलग बक्से में रखा था। इसके अलावा गुंबद पर सोना लगाने के लिए इंजीनियर व कारीगरों के दल का 18 बक्से में औजार है। जिसे महाबोधि मंदिर के प्रथम तल के एक कक्ष में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रखा गया है।

मंदिर के गुंबद को स्वर्ण आच्छादित करने का कार्य 40 सदस्यीय दल द्वारा किया जाएगा। जिसकी निगरानी के लिए थाई राजा का एक प्रतिनिधि भी बोधगया आया है। गुंबद में सोना लगाने का कार्य मंगलवार से आरंभ होगा।

महाबोधि मंदिर प्रबंधकारिणी समिति के सदस्य डा. अरविंद सिंह ने बताया कि जब तक कार्य चलेगा तब तक थाई पुलिस के कमांडो मंदिर के इर्दगिर्द तैनात रहेंगे। इसके अलावा विशेष सुरक्षा के लिए बिहार पुलिस के अतिरिक्त बल की तैनाती की गई है। गुंबद में सोना लगाने के कार्य की निगरानी जिला प्रशासन द्वारा तैनात एक दंडाधिकारी भी करेंगे। उन्होंने कहा कि एयरपोर्ट से आए सोना को बक्से से निकाल कर रख दिया गया है। वीडियोग्राफी कराई गई है। होने वाले कार्य की वीडियोग्राफी करायी जाएगी। मौके पर सचिव एन. दोरजे, भिक्षु प्रभारी भंते चालिंदा, केयरटेकर भंते दीनानंद, सदस्य डा.सिंह व डा.राधा कृष्ण मिश्र उपस्थित थे।

Posted By:

  • Font Size
  • Close