Angarak Yog: राहु और मंगल ग्रह के प्रबल होने से मांगलिक कार्यों में रुकावट आती है। अब दोनों ग्रह एक साथ 10 अगस्त 2022 तक मेष राशि में विराजमान रहेंगे। जो ग्रहों का एक ही राशि में रहने को युति कहा जाता है। राहु और मंगल की युति से अंगारक नाम का योग बन रहा है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार अंगारक योग को अशुभ माना जाता है। इस दौरान कोई मांगलिक कार्य नहीं किया जाता है। हालांकि राहु और मंगल की युति कई राशि वालों के लिए अनुकूल रहेगी। आइए जानते हैं।

मेष राशि

यह समय अनुकूल है। मान सम्मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि हो सकती है। व्यापार में लाभ के योग हैं। पैसों के मामले में नए ऑफर मिल सकते हैं।

मिथुन राशि

इस राशि के जातकों को नौकरी में पदोन्नति मिलने के आसार हैं। निवेश में सफलता मिलेगी। आपके सभी प्रयास सफल होंगे और आत्मविश्वास बढ़ेगा।

कर्क राशि

परिवार का सहयोग प्राप्त होगा। किसी विशेष व्यक्ति से मुलाकात होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। नौकरी के क्षेत्र में सबकुछ अच्छा रहेगा।

सिंह राशि

आय के नए साधन प्राप्त होंगे। धार्मिक कार्यों में सक्रिय रहेंगे। यश व कीर्ति की प्राप्ति होगी। कोई नई योजना सामने आ सकती है। प्रॉपर्टी से अच्छा रिटर्न मिल सकता है।

वृश्चिक राशि

धन लाभ की संभावना है। व्यापार में अत्यधिक मुनाफा प्राप्त होगा। विरोधी परास्त होंगे। जीवन साथी का सहयोग मिलेगा।

धनु राशि

सामाजिक जीवन में भागीदारी बढ़ेगी। नए संपर्क भाग्योदय में सहायक रहेंगे। शादी-ब्याह या किसी कार्यक्रम में शिरकत करने की संभावना है।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Shailendra Kumar

  • Font Size
  • Close