Astro News: ज्योतिषियों के अनुसार मंगलवार 24 मई को बुधादित्य और त्रिग्रही योग बनेगा। इस दिन मंगल बृहस्पति के साथ एक ही राशि में रहेगा। जिससे शुभ फल दोगुना होगा। बुधादित्य और त्रिग्रही संयोग में ज्येष्ठ महीने का होने से धार्मिक क्षेत्र में गति बढ़ेगी। देश के लिए शुभ समय शुरू होगा। मान्यताओं के अनुसार ज्येष्ठ मास के मंगलवार को बड़ा मंगल कहा जाता है। इस दिन व्रत रखने और हनुमान जी की पूजा करने से सभी दोष खत्म हो जाते हैं।

बुधादित्य और त्रिग्रही युति

ज्योतिषाचार्य के अनुसार ग्रह गोचर में शुक्र, मंगल और गुरु की त्रिग्रही युति मीन राशि में बनेगी। वृषभ राशि में सूर्य और बुध मिलकर बुधादित्य योग बना रहे हैं। ग्रहों के शुभ संयोग में किए गए व्रत और पूजा का पुण्य बढ़ जाएगा।

मंगलवार के अधिपति पवनपुत्र

मंगलवार के अधिपति पवनपुत्र हैं। ज्येष्ठ मास में श्रीराम की हनुमानजी की पहली मुलाकात हुई थी। इस दिन जरूरतमंद की मदद और दान करने से कई गुना शुभ फल मिलता है। वह हनुमान जी की कृपा से सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

ऐसे करें पूजा

श्री रामचरितमानस के मुताबिक मंगलवार को हनुमान जी का जन्म हुआ था। इस कारण हर मंगलवार को बजरंगबली की पूजा की जाती है। भगवान के सामने धूप-दीप जलाकर हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ करना चाहिए। वहीं नौ ग्रहों में मंगल को सेनापति माना जाता है। मंगल देव को लाल पुष्प, मसूर दाल चढ़ाए। वह ऊं भौमाय नमः मंत्र का 108 बार जाप करें।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Koo App

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close