Budh Rashi Parivartan 2021: बुद्धि के कारक बुध ग्रह 22 सितंबर को राशि परिवर्तन कर रहा है। बुध अपनी राशि कन्या से निकलकर तुला राशि में गोचर करेंगे। वह 2 अक्टूबर तक विराजमान करेंगे। तुला राशि में शुक्र पहले से गोचर कर रहे हैं। ऐसे में दो ग्रहों की युति बनेगी। बुध के राशि परिवर्तन से मेष, मिथुन, कन्या, तुला, धनु और मकर राशियों के जातकों को लाभ होगा। आइए जानते हैं बुध ग्रह के गोचर से क्या असर होने वाला है।

मेष राशि

बुध का गोचर मेष राशि के सप्तम भाव में हो रहा है। इस दौरान कारोबार करने वाले जातकों को लाभ मिलेगा। टेक्निकल फील्ड से जुड़ों लोगों को करियर में अच्छा मौका मिलेगा। इस दौरान नई जिम्मेदारियां मिल सकती हैं।

मिथुन राशि

इस राशि में बुध का गोचर पंचव भाव में हो रहा है। इस दौरान नौकरी पेशा जातकों से अधिकारी खुश रहेंगे। परिवार के साथ कहीं घूमने का प्लान बन सकता है। कहीं से अतिरिक्त इनकम कमाने का मौका मिलेगा। ऊर्जा स्तर और उत्साह में वृद्धि होगी।

कन्या राशि

कन्या राशि में बुध का परिवर्तन द्वितीय भाव में हो रहा है। इस दौरान राजनीति और पत्रकारिता से जुड़े लोगों को लाभ हो सकता है। बीमारी से परेशान जातकों को राहत मिलेगी। घर में खुशहाली का माहौल रहेगा। धन खर्च करने में संकोच नहीं करेंगे।

तुला राशि

तुला राशिवालों का कोई रुका हुआ काम पूरा हो सकता है। व्यापारियों को अच्छा मुनाफा मिलेगा। लोग आपकी तारीफ करेंगे। आर्थिक लाभ होगा और अपनी मेहनत से कार्यक्षेत्र में जीत दर्ज करेंगे।

धनु राशि

बुध का गोचर धनु राशि के एकादश भाव में हो रहा है। कोई अच्छी डील मिलने संभावना है। प्रमोशन के योग बनेंगे। कुंवारों को शादी का प्रस्ताव मिलेगा।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों को करियर में नए अवसर प्राप्त होंगे। विदेश में शिक्षा और नौकरी करने की इच्छा रखने वालों के लिए अच्छा समय है। परिवार से आर्थिक सहयोग मिलेगा।

Posted By: Arvind Dubey