Swapna Shastra: ज्योतिष शास्त्र में स्वप्न का बड़ा महत्व है। इससे भविष्य में होने वाली शुभ और अशुभ घटनाओं को बड़ी आसानी से समझा जा सकता है। यह स्वप्न के समय और परिस्थिति पर निर्भर करता है। ब्रह्म मुहूर्त में देखे गए स्वप्न ज्यादातर सच साबित होते हैं। कई सपने ऐसे होते हैं जिसे व्यक्ति आंख खुलते ही भूल जाता है। वहीं, कुछ ऐसे भी सपने होते हैं, जो नींद खुलने के बाद याद रहते हैं। याद रहने वाले सपनों को अक्सर हम दूसरों को बता देते हैं। कुछ सपनों को बेहद शुभ संकेत माना जाता है और इन सपनों को देखने से भविष्य में शुभ फल की प्राप्ति होती है। इसे किसी को नहीं बताना चाहिए। स्वप्न शास्त्र में इसकी अलग-अलग व्याख्या की गई है।

सोमवार को शिव दिखें तो क्‍या करें

छत्‍तीसगढ़ के बिलासपुर के ज्योतिषाचार्य पंडित वासुदेव शर्मा के मुताबिक स्वप्न कई प्रकार के होते हैं। नींद में सपने देखना एक सामान्य बात है। सोमवार को यदि स्वप्न में भगवान भोलेनाथ के दर्शन हो जाएं तो किसी को बताना नहीं चाहिए। भगवान के दर्शन के बाद सोमवार को विधिवत पूजन या जल चढ़ाना चाहिए। इससे शुभफल प्राप्त होता है।

सपने में चांदी का बर्तन दिखना अत्‍यंत शुभ संकेत

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सपने में अगर आप चांदी का कलश या चांदी से भरा कलश दिखे तो यह बेहद शुभ सपना माना जाता है। ऐसे सपने का अर्थ होता है कि व्यक्ति के जीवन से दुख, दर्द और कष्ट दूर होने वाले हैं। स्वास्थ्य उत्तम बना रहता है। हालांकि इन बातों को किसी को बताना नहीं चाहिए। अन्यथा बनते काम बिगड़ सकते हैं।

मौत दिखे तो समझें भला होगा

सपने में यदि किसी की मृत्यु या मौत दिखाई दे तो इसे शुभ माना जाता है। इसका संकेत है कि जीवन में अच्छा होेने वाला है। उम्र भी बढ़ती है। सोमवार को भोलेनाथ के स्वप्न में दर्शन हो जाएं तो समझ लेना कि जीवन में कुछ शुभ काम होने वाला है या फिर परेशानियों से मुक्ति मिलने वाली है।

Posted By: Abrak Akrosh

  • Font Size
  • Close