Janmashtami 2022: हिंदू धर्म में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का विशेष महत्व है। मान्यता है कि कृष्ण, भगवान विष्णु के 8वें अवतार हैं। पौराणिक कथा के अनुसार कान्हा का जन्म भादों के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि और रोहिणी नक्षत्र में हुआ था। ज्योतिष शास्त्र में 12 राशियों का वर्णन है। हर राशि का अपना एक स्वामी ग्रह होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ राशियां भगवान श्रीकृष्ण को बेहद प्रिय हैं। इन राशियों पर केशव की विशेष कृपा बरसती है। आइए जानें इन राशियों के बारे में-

वृषभ राशि

भगवान कृष्ण को वृषभ राशि बेहत प्रिय है। श्रीकृष्ण की कृपा से इस राशि के जातकों को कार्यों में सफलता मिलती है। इस राशि को जातकों को मंदिर जाकर माखन का भोग लगाना चाहिए।

कर्क राशि

कर्क राशियों पर श्रीकृष्ण मेहरबान रहते हैं। इनकी कृपा से इस राशि के जातक जो भी कार्य करते हैं। उन्हें उसमें सफलता मिलती है। धार्मिक मान्यता है कि जिन लोगों पर केशव की विशिष्ट कृपा होती है। उन्हें मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है।

सिंह राशि

सिंह राशि भी भगवान श्रीकृष्ण को प्रिय है। इस राशि के जातक अधिक मेहनती होते हैं। कान्हा की कृपा से इन्हें हर काम में शुभ फल प्राप्त होता है। वहीं सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

तुला राशि

मान्यता है कि तुला राशियों को जीवन में सभी प्रकार के सुख प्राप्त होते हैं। इन पर कृष्ण की विशेष कृपा होती है। इस राशि के जातकों को मान-सम्मान व पद प्रतिष्ठा में वृद्धि होती है। इन्हें भगवान कृष्ण और राधा का मनन करते रहना चाहिए।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By:

  • Font Size
  • Close