Ketu Rashi Parivartan: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार राहु और केतु को छाया ग्रह माना जाता है। राहु-केतु हमेशा एक साथ अक्ष में घूमते रहते हैं। केतु एक राशि से दूसरी राशि में जाने में करीब डेढ़ साल का समय लेते हैं। इस साल केतु ने 12 अप्रैल को वृश्चिक राशि से निकलकर तुला राशि में प्रवेश किया था। केतु अब इस राशि में 2023 तक रहेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार केतु के राशि परिवर्तन कुछ राशि वालों के जीवन में काफी सफलता आने वाली है। इन राशि वालों के लिए आने वाला साल शुभ रहने वाला है। आइए जानते हैं कि वे राशियां कौन-सी हैं जिन्हें अपार सफलता प्राप्त होने वाली है।

सिंह राशि - सिंह राशि के जातकों के लिए केतु तीसरे भाव में गोचर कर रहे हैं। इस समय में सिंह राशि वालों को अपने लक्ष्यों की प्राप्ति होगी। पिछले काफी समय से आप जिन समस्याओं का सामना कर रहे थे। उनसे छुटकारा मिलेगा। आपकी कार्यशैली में भी सुधार होने की संभावना है। उच्चाधिकारियों से प्रशंसा मिलेगी।

कन्या राशि - कन्या राशि के जातकों के लिए 2023 का समय काफी शुभ रहने वाला है। इस समय में आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होगी। आप काफी एक्टिव और आत्मविश्वास से भरपूर होंगे। यह समय आपके लिए काफी शुभ परिणाम लेकर आएगा।

धनु राशि - धनु राशि वालों के लिए केतु एकादश भाव में गोचर कर रहे हैं। केतु के इस प्रभाव से जो लोग राजनीति से जुड़े हैं उन्हें काफी लाभ होने वाला है। इस दौरान आपको भाग्य का साथ भी मिलने वाला है। उच्चाधिकारी आपके काम की तारीफ कर सकते हैं। नौकरी में परिवर्तन करने के लिए यह अच्छा समय है।

मकर राशि - केतु का गोचर मकर राशि के जातकों के लिए लाभदायी रहने वाला है। इस अवधि के दौरान नई नौकरी मिलने की संभावना है। वहीं नौकरी कर रहे लोगों को पदोन्नति हो सकती है। व्यापार में मुनाफा होगा। रुका हुआ पैसा वापस मिल सकता है। मकर राशि वालों के लिए 2023 का समय काफी शुभ रहेगा।

कुंभ राशि - केतु के राशि परिवर्तन से कुंभ राशि वालों के लिए यह काफी शुभ परिणाम देगा। इस समय भाग्य आपका पूरा साथ देगा। जिस भी काम को करेंगे उस काम में सफलता मिलेगी। व्यापार यात्रा के योग बन रहे हैं। छात्रों को भी सफलता मिलने का योग हैं। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close