Lucky Zodiac: ज्योतिष शास्त्र में कहा गया है कि ग्रहों और सितारों के शुभ प्रभाव होने पर ही किसी राशि के जातक का जीवन सुखी होता है। इन्हें जीवन में सफलता मिलती है और ये हर क्षेत्र में आगे बढ़ते हैं। ये लोग बहुत भाग्यशाली होते हैं। इन पर भगवान कुबेर की विशेष कृपा होती है। कुछ राशि के जातकों पर भगवान कुबेर बहुत प्रसन्न होते हैं और उन पर विशेष कृपा करते हैं। इसी वजह से इन्हें जीवन में हर काम में सफलता मिलती है। इन राशियों के लोग जन्म से ही बेहद आलीशान जिंदगी जीते हैं। ये कभी भी आर्थिक रूप से कमजोर नहीं होते हैं। जानिए किस राशि के जातकों पर भगवान कुबेर की कृपा बनी रहती है।

वृश्चिक राशि

इस राशि के जातकों पर कुबेर देव की विशेष कृपा होती है। जिसके कारण इस राशि के जातक छोटी उम्र से ही काफी धनवान होते हैं। ये अपना जीवन बड़ी शान से जीते हैं। इनके पास धन की कभी कमी नहीं होती है। वे काम पर हमेशा कड़ी मेहनत करते हैं इसलिए इन्हें जीवन में सफलता मिलती है। इस राशि के जो लोग व्यापार से जुड़े हैं उन्हें जीवन में हमेशा तरक्की मिलती है।

तुला राशि

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस राशि के जातकों के जीवन में कुबेर की कृपा सदैव बनी रहती है। ये आर्थिक रूप से हमेशा तरक्की करते हैं। इस राशि के लोग खूब पैसा कमा सकते हैं। ये जीवन में हर किसी से प्यार करना जानते हैं। ये कभी किसी को चोट नहीं पहुंचाते हैं। ना ही किसी को धोखा देते हैं। ये हमेशा अपने काम में व्यस्त रहते हैं।

कर्क राशि

इस राशि के लोगों को भगवान कुबेर की विशेष कृपा प्राप्त होती है। ये लोग बहुत बुद्धिमान, मेहनती और ईमानदार लोग होते हैं। ये हमेशा सभी काम पूरी लगन के साथ करते हैं। इससे इन्हें कुबेर देव की विशेष कृपा के साथ-साथ भाग्य का भी भरपूर सहयोग प्राप्त होता है। इनका हर क्षेत्र में सम्मान होता है। आर्थिक पक्ष में ये बहुत सफल होते हैं। इन्हें बहुत बड़ी कंपनियों में नौकरी मिलती है। कुछ लोग समाज में बहुत बड़े पद पर स्थापित भी हो जाते हैं।

Vastu Tips: घर में कबूतरों का आना देता है अच्छे समय का संकेत? जानिए

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Ekta Sharma

  • Font Size
  • Close