Masik Rashifal: अक्टूबर के महीने में कई बड़े ग्रहों का राशि परिवर्तन होने वाला है। ग्रह-नक्षत्रों के परिवर्तन का सीधा असर सभी के जीवन पर पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सभी 12 राशियों पर इसका प्रभाव देखने को मिलता है। आइए जानते हैं कि किन राशि वालों के लिए अक्टूबर का महीना शुभ परिणाम लेकर आया है और किन्हें नुकसान हो सकता है।

मेष राशि - व्यर्थ के क्रोध और वाद-विवाद से बचें। मानसिक शांति बनाए रखें। कारोबार में सुधार होगा। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सुधार होगा। किसी भी मित्र का सहयोग मिल सकता है। कारोबार के लिए यात्रा हो सकती है। रहन-सहन अव्यवस्थित हो सकता है। कहीं से अचानक धन की प्राप्ति हो सकती है।

वृषभ राशि - महीने की शुरुआत में धैर्यशीलता में कमी हो सकती हैं। आत्मसंयम बनाए रखें। बातचीत में संतुलित रहें। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें। खर्चों में वृद्धि होगी। माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखने की आवश्यकता है। दिनचर्या अव्यवस्थित हो सकती है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सुधार होगा। कार्यक्षेत्र में सुधार हो सकता है।

मिथुन राशि - आत्मविश्वास बना रहेगा। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। मन अशांत रहेगा। नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी हो सकता है। धैर्यशीलता में कमी आएगी। परिवार में शांति बनाए रखने का प्रयास करें। कला या संगीत के प्रति रुझान बढ़ सकता है।

कर्क राशि - महीने की शुरुआत में मन अशांत रहेगा। आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। शैक्षिक कार्यों में कठिनाई आ सकती है। रहन-सहन कष्टमय हो सकता है। माता के स्वास्थ्य में सुधार होगा। संतान और पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखने की आवश्यकता है।

सिंह राशि - क्रोध के अतिरेक से बचें। मन अशांत रहेगा। आत्मविश्वास में कमी आएगी। किसी संपत्ति से आय के साधन बन सकते हैं। स्वास्थ्य का भी ध्यान रखें। मित्रों से सहयोग मिलेगा। कारोबार पर ध्यान देने की आवश्यकता है। कठिनाइयां आ सकती हैं। यात्रा के योग बन रहे हैं।

कन्या राशि - मन में नकारात्मक विचारों का प्रभाव भी हो सकता है। आत्मसंयम बनाए रखें। आत्मविश्वास बना रहेगा। परिवार में शांति बनाए रखने का प्रयास करें। अपनी भावनाओं को वश में रखें। किसी बुजुर्ग महिला से धन की प्राप्ति हो सकती है। कार्यक्षेत्र में बदलाव हो सकते हैं।

तुला राशि - महीने के शुरुआत में मन अशांत रहेगा। मन में निराशा और असंतोष हो सकता है। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सुधार होगा। मन परेशान हो सकता है। स्वास्थ्य में सुधार होगा। मन अशांत रहेगा। कारोबार में वृद्धि के लिए भागदौड़ हो सकती है। संपत्ति के वृद्धि के भी योग बन रहे हैं।

वृश्चिक राशि - महीने की शुरुआत में निराशा के भाव मन में आ सकते हैं। आत्मविश्वास में कमी आ सकती है। नौकरी में कार्यक्षेत्र में वृद्धि हो सकती है। परिश्रम अधिक रहेगा। खर्चों में वृद्धि हो सकती है। पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। वाहन के रखरखाव पर भी खर्च बढ़ सकते हैं। कारोबार में कठिनाई आ सकती है।

धनु राशि - महीने की शुरुआत में मन परेशान हो सकता है। आत्मविश्वास बना रहेगा। मन में नकारात्मक विचारों को न आने दें। परिवार के साथ किसी धार्मिक यात्रा पर जा सकते हैं। धैर्यशीलता में कमी आ सकती है। कारोबार में कठिनाइयां आ सकती हैं। उपहार में वस्त्रों की प्राप्ति हो सकती है।

मकर राशि - मन में नकारात्मकता प्रभाव भी हो सकता है। आत्मसंयम बनाए रखें। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है। माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। पिता का सहयोग मिलेगा। वाहन सुख में वृद्धि हो सकती है। किसी मित्र के सहयोग से कारोबार में विस्तार हो सकता है।

कुंभ राशि - मन में नकारात्मक विचारों का प्रभाव हो सकता है। मन अशांत रहेगा। क्रोध के अतिरेक से बचें। आत्मविश्वास में कमी होगी। जीवनसाथी के स्वास्थ्य में सुधार होगा। कारोबार में भाग दौड़ हो सकती है। नौकरी में तरक्की के अवसर प्राप्त हो सकते हैं। वाहन की प्राप्ति हो सकती है।

मीन राशि - आत्मविश्वास बना रहेगा। मन परेशान हो सकता है। परिवार का साथ मिलेगा। धैर्यशीलता में कमी आ सकती है। नौकरी में तरक्की के अवसर मिल सकते हैं। अफसरों से सद्भाव बनाकर रखें। वाहन सुख में कमी आएगी। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की आवश्यकता है।

Shani Margi 2022: कुंभ राशि पर चल रहा है शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव, इस दिन मिलेगी मुक्ति

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Ekta Shrma

  • Font Size
  • Close