Mangal Rashi Parivartan 2022: इस महीने मंगल ग्रह अपनी स्थिति में बदलाव करने वाले हैं। 10 अगस्त के दिन मंगल ग्रह मेष राशि से निकलकर वृषभ राशि में प्रवेश करने वाले हैं। मंगल ग्रह रात 09: 43 पर गोचर करेंगे। मंगल ग्रह को साहस व पराक्रम का कारक ग्रह माना गया है। मंगल ग्रह के राशि परिवर्तन से कुछ राशियों पर इसका शुभ तो कुछ राशियों पर इसका अशुभ प्रभाव पड़ेगा। ज्योतिष शास्त्र में मंगल ग्रह को ग्रहों का सेनापति भी माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि जिन जातकों की कुंडली में ग्रहों की स्थिति अच्छी होती है। वे साहसी और निडर होते हैं। साथ ही हर कार्य में सफलता भी प्राप्त करते हैं। आइए जानते हैं कि मंगल ग्रह के वृषभ राशि में आने से किन राशि वालों पर इसका प्रभाव पड़ेगा।

मेष राशि - मेष राशि वालों के दूसरे भाव में मंगल का गोचर होगा। इस समय अवधि में आपको कई क्षेत्रों में दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। खर्चों को लेकर थोड़ा सावधान रहें। आर्थिक परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। छात्रों के लिए यह समय उत्तम माना गया है। किसी यात्रा पर जा सकते हैं।

मिथुन राशि - मिथुन राशि वालों के 12वें भाव में मंगल देव का गोचर होगा। मंगल ग्रह के प्रभाव के कारण आपको इस समय अवधि में अपने जीवन में उतार चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। इस दौरान आपके स्वास्थ्य पर भी प्रभाव पड़ सकता है। व्यापार में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

तुला राशि - तुला राशि का जातकों की राशि के आठवें भाव में मंगल गोचर होगा। इस दौरान आपको कई चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। वाहन चलाते समय सावधानी बरतें। वाणी पर संयम रखने की आवश्यकता है। जीवन कोई बड़ा बदलाव देखने को मिल सकता है। आर्थिक स्थिति कमजोर होगी।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close