Palmistry News । हर व्यक्ति में हाथ में रेखाएं, चिन्ह, पर्वत, चक्र आदि अलग होते हैं और हस्त रेखा ज्योतिष में इसी के आधार पर व्यक्ति के भाग्य के बारे में जानकारी हासिल की जाती है। हस्त रेखा ज्योतिष के मुताबिक हर व्यक्ति के हाथ में क्रॉस का निशान भी अलग-अलग स्थान पर पाया जाता है। हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक हथेली में क्रॉस का निशान अच्छा माना जाता है, जबकि हथेली में यदि क्रॉस का निशान पर्वतों पर होता है तो इसे शुभ नहीं माना जाता है। गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान बेहद खास होता है। हाथ में यह एकमात्र पर्वत है, जहां पर क्रॉस का निशान काफी शुभ फल देता है।

हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार यदि किसी व्यक्ति के गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान होता है तो ऐसे लोगों को सुख संपत्ति की प्राप्ति होती है। गुरु पर्वत पर क्रॉस का निशान किसी पढ़े-लिखे और धनी परिवार से जीवनसाथी की प्राप्ति का भी संकेत देता है। दांपत्य जीवन भी सुखमय होता है।

बुध पर्वत पर क्रॉस निशान अशुभ

ज्योतिष के मुताबिक यदि बुध पर्वत पर क्रॉस का निशान होता है तो ऐसे लोग स्वभाव से धोखेबाज और झूठे होते हैं। केतु पर्वत पर यदि किसी व्यक्ति का क्रॉस हो तो किसी पारिवारिक समस्या के कारण पढ़ाई नहीं हो पाती है। जातक बचपन में ही बहुत बीमार रहता है। यदि व्यक्ति के पास शनि पर्वत पर क्रॉस है तो विवादों में फंसे रहने की आशंका रहती है। ऐसे लोग लड़ाई में चोटिल हो सकते हैं। विवाद के कारण उनकी समय से पहले भी मौत हो जाती है।

सूर्य पर्वत पर क्रॉस का निशान पहुंचाता है प्रतिष्ठा को ठेस

जातक की हथेली में यदि सूर्य पर्वत पर क्रॉस का निशान हो तो मान-सम्मान को बहुत ठेस पहुंचती है और उसे समाज में बदनामी का सामना करना पड़ता है। व्यापार में घाटा होता है। मंगल पर्वत पर क्रॉस का चिन्ह होने के कारण विवादों से सामना होता है और जेल भी जाना पड़ सकता है।

Posted By: Sandeep Chourey

  • Font Size
  • Close