Shani Dev Margi 2022: वैदिक ज्योतिष के अनुसार शनि सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह है। शनिदेव के क्रोध से सभी डरते हैं। छाया पुत्र को न्याय के देवता और कर्म के दाता के रूप में जाना जाता है। शनैश्वर जातक के अच्छे और बुरे कर्मों पर नजर रखते हैं और कर्म के अनुसार फल देते है। ढाई साल की अवधि में शनि राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि मकर राशि में गोचर कर रहे हैं। शनि की इस वक्री चाल के कारण कई राशियों में शनि का प्रकोप है, लेकिन इन जातकों को जल्द ही राहत मिलेगी। दरअसल 23 अक्टूबर को शनि मकर राशि में से हटकर सीधे चलने लगेंगे। यह परिवर्तन कुछ जातकों को शनिदेव के प्रकोप से मुक्त कर देगा।

मेष

शनि का गोचर आपके दसवें भाव में होगा। इससे व्यापारियों को काफी लाभ होगा। इस दौरान नौकरी के कई नए प्रस्ताव प्राप्त होंगे। मान सम्मान में वृद्धि होगी। लाभ की संभावना रहेगी। अगर पार्टनरशिप के बिजनेस की प्लानिंग कर रहे है। उसके लिए यह गोचर उत्तम रहेगा। किसी निवेश से अचानक धन लाभ होने की संभावना है।

कर्क

शनि इस राशि से 7वें भाव में गोचर करेंगे। इन जातकों के जीवन से दुख दूर होंगे। मान सम्मान बढ़ेगा। जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा। शनि के मकर राशि में मार्गी होने से आपके पिता और गुरुओं के साथ संबंध बेहतर होंगे। साथ ही सभी संघर्ष करने में भी सक्षम रहेंगे। कार्यक्षेत्र में कोई बदलाव करने की कोशिश कर रहे है, तो ये अवधि अनुकूल रहेगी।

तुला

शनि देव इस राशि के चतुर्थ भाव में गोचर करने जा रहा है। इस अवधि में आय में वृद्धि होगी। शुभ समाचार सुनने को मिलेगा। वित्तीय प्रगति की संभावना है। अगर आप शादीशुदा हैं, तो यह समय पार्टनर के प्रति प्रेम बढ़ेगा। सभी शत्रुओं का मुकाबला साहस के साथ करते हुए विजय प्राप्त करने में सक्षम होंगे। छात्रों को प्रतियोगी परीक्षा में सफलता मिलेगी।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि वालों के लिए यह समय अनुकूल है। निवेश के लिए यह एक अच्छा समय है। दांपत्य जीवन में खुशियां आएंगी। कोई शुभ समाचार मिलने की संभावना है। अच्छी सैलरी नौकरी का ऑफर मिल सकता है। कोई जमीन या वाहन खरीद सकते हैं।

मीन

इस राशि के जातकों के जीवन में शनि देव खुशियां लेकर आएगा। मानसिक तनाव से मुक्ति मिलेगी। काम और व्यापार में सफलता प्राप्त करेंगे। सकारात्मक परिणाम प्राप्त होंगे। जीवनशैली में कुछ अच्छा बदलाव हो सकता है। कार्यस्थल पर सुचारू रूप से काम करने में सक्षम होंगे। प्रेम विवाह को परिवार की ओर से स्वीकृति मिलेगी।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Kushagra Valuskar

  • Font Size
  • Close