Shani Rashi Parivartan 2022: शनि देव का राशि परिवर्तन बहुत महत्वपूर्ण होता है। कर्मफल दाता की जिस पर कृपा हो जाए। वह राजा की तरह जीवन जीता है। जबकि बुरी नजर पड़ने पर जातक को काफी कष्टों का सामना करना पड़ता है। 29 अप्रैल को शनिदेव ने 30 साल बाद कुंभ राशि में प्रवेश किया। शनि का यह परिवर्तन बड़ा बदलाव लाएगा। ढाई साल में राशि बदलने वाले शनि देव कुंभ राशि में 75 दिनों तक गोचर करेंगे। शनि देव के बारे में कहा जाता है कि वे राजा को रंक और रंक को राजा बना देते हैं। यह बात एकदम सटीक भी है। हमारे जीवन में हम ऐसे कई उदाहरण देख सकते हैं। इसलिए शनि महाराज की कृपा जिस पर हो गई, समझो उसकी किस्‍मत खुल गई।

शनि ग्रह से जुड़े आसान उपाय

- अपनी जीवनशैली में अधिक काले सामान, चीजें और कपड़े शामिल करें।

- बुजुर्गों का सम्मान करें।

- मांस और शराब के सेवन से बचें।

- शनिवार के दिन रबर और लोहे की बनी चीजें न खरीदें।

- शनिदेव की पूजा करें

- राधा कृष्ण की आरती करें

- हो सके तो शनिवार का व्रत करें और शनि से संबंधित वस्तु जैसे साबुत उड़द की दाल, लोहा, तिल आदि का दान करें।

शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय

1. सूर्यास्त के बाद पीपल के पास दीपक जलाएं। इस उपाय से धन संबंधी परेशानी दूर होगी।

2. हर शनिवार शनिदेव को तेल अर्पित करें और नीले फूल चढ़ाएं। पूजन करते समय सीधे शनि की मूर्ति के दर्शन न करें।

3. पीपल को जल चढ़ाएं और सात बार परिक्रमा करें। ऐसा करने से शनिदेव प्रसन्न होते हैं।

4. हर शनिवार तेल का दान करें। इसके लिए एक कटोरी में तेल लें। उसमें अपना चेहरा देखें। फिर तेल किसी जरूरतमंद को दें।

5. बजरंगबली को सिंदूर और चमेली चढ़ाएं। हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान जी की पूजा करने से शनिदेव प्रताड़ित नहीं करते हैं।

शनि के महागोचर का सभी राशियों पर पड़ेगा यह असर

शनि ने 29 अप्रैल, 2022 को कुंभ राशि में प्रवेश किया। इसलिए सभी राशियों के लिए एक निर्णायक परिवर्तन होने है। साथ ही, यह 5 जून को वक्री हो जाएगा और पीछे की ओर बढ़ेगा और एक बार फिर आएगा। 12 जुलाई को मकर राशि में वापस आ जाएगा और 17 जनवरी, 2023 तक यहां रहेगा। आइए देखें कि विभिन्न राशियों के लिए क्‍या प्रभाव होगा।

मेष: यह चरण अत्यधिक आशाजनक रहेगा। हर उस चीज के साथ जिसे आप छूते हैं, सोने में बदल जाती है। यह आपको जीवन भर की संभावनाएं प्रदान करेगा। जैसे-जैसे आपका प्रभाव बढ़ेगा लोग आपकी सलाह लेंगे और आपको अलग तरह से मानने लगेंगे। यदि आप देश से बाहर जाना चाहते हैं, तो यह करने का समय आ गया है। जीवनसाथी से जुड़े खर्चे होंगे, लेकिन दोनों साथ में क्वालिटी टाइम बिताएंगे। यदि आप प्रेम प्रसंग के बीच में हैं तो सावधान रहें और किसी भी तरह की गलतफहमी से बचें।

वृष राशि: आपका करियर आगे बढ़ता रहेगा, लेकिन आपको अधिक जिम्मेदारी दी जा सकती है। नौकरी की चाल के परिणामस्वरूप स्थिति में बदलाव हो सकता है, जो फायदेमंद होगा। यदि आप एक फर्म के मालिक हैं, तो आपको मजबूत विकास की आशा करनी चाहिए और अपने कार्यों के विस्तार पर विचार करना चाहिए। वेतन वृद्धि अब निश्चित संभावना है। आपका साथी स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित हो सकता है, और आपको अपने बंधन को बेहतर बनाने पर ध्यान देना चाहिए। आपके पिता का स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है।

मिथुन (Gemini) : नौकरी में कोई रूकावट दूर होगी, और अप्रत्याशित संभावनाएं खुद को पेश करेंगी, साथ ही आपके आस-पास के रिश्तों में अनुकूल बदलाव भी आएंगे। आप आत्मविश्वास में वृद्धि देखेंगे, और परिणामस्वरूप आप कुछ साहसी कदम उठाएंगे। आप प्रमुख वित्तीय विकल्प बनाने में संकोच नहीं करेंगे, और आपके व्यापार भागीदार का आपके साथ दीर्घकालिक संबंध होगा। इस समय संबंधों में भी सुधार होगा और आपका जीवनसाथी सकारात्मक प्रतिक्रिया देगा।

कर्क: अचानक आपके पेशेवर जीवन में व्यवधान आ सकता है। अप्रत्याशित नौकरी परिवर्तन और कार्यस्थल की चिंताएं अनावश्यक तनाव में योगदान कर सकती हैं। प्रतिस्पर्धियों या छुपे हुए शत्रुओं से आप पर बढ़त हो सकती है। कंपनी के मालिकों के लिए नकदी प्रवाह की समस्या उत्पन्न हो सकती है। अपने जीवन में निवेश से संबंधित कोई बड़ा चुनाव न करें। आप अपने साथी के साथ कैसे बातचीत करते हैं, इस बारे में आपको सतर्क रहना चाहिए। ससुराल पक्ष के साथ संबंधों पर जोर रहेगा।

सिंह (Leo) : पिछले कई वर्षों से आप जिन समस्याओं से जूझ रहे हैं, उनसे काफी राहत मिलेगी। आप अपने काम में आवश्यक कर्षण प्राप्त करना शुरू कर देंगे और आगे बढ़ने के लिए कार्रवाई करना शुरू कर देंगे। काम करने या विदेश यात्रा करने के अवसर प्राप्त होंगे। व्यापार करने वालों को अपने कर्ज के बोझ तले दबने से बचना चाहिए और अपने कर्मचारियों पर नजर रखनी चाहिए। प्रॉपर्टी में निवेश करने की सलाह दी जाती है। जीवनसाथी के साथ-साथ पिता से भी कुछ अनबन हो सकती है।

कन्या (Virgo) : हालात सुधरने लगेंगे और पुरानी परेशानियां खत्म हो जाएंगी। आपके कार्य संबंधों में सुधार होगा, और आपके प्रयासों और उपलब्धियों को आपके साथियों द्वारा पहचाना जाएगा। किसी भी लंबित कानूनी मामले का समाधान होगा। आप अपनी वित्तीय स्थिति को सुधारने के लिए समाधान खोजेंगे। विरासत को लेकर विवाद हो सकता है। अगर आप अविवाहित हैं तो जल्द ही आपको बहुत अच्छी खबर सुनने को मिलेगी। अगर आप शादीशुदा हैं तो अपने पार्टनर के स्वास्थ्य का ध्यान रखें।

तुला: आपको अप्रत्याशित संभावनाओं के साथ प्रस्तुत किया जाएगा और पैसे कमाने के नए तरीकों की खोज की जाएगी, और अन्य लोग आपके प्रयासों की सराहना करेंगे। आप अपने व्यवसाय को विकसित करने के लिए ऋण सुरक्षित करने में सक्षम हो सकते हैं, जिससे लाभ होगा। विवेकपूर्ण सट्टा निवेश, जैसे कि स्टॉक और शेयरों में, लाभ प्रदान कर सकते हैं। अप्रत्याशित घटनाओं से शादी की योजना पटरी से उतर सकती है। वैवाहिक सौहार्द भंग होने पर भी इसे शांति से प्रबंधित किया जा सकता है।

वृश्चिक (Scorpio) : कामकाज की परिस्थितियों में सुधार होगा और बीते दिनों की परेशानियां दूर होने लगेंगी। आपके वरिष्ठों के साथ आपके संबंध मजबूत होंगे और आपके काम पर ध्यान दिया जाएगा और प्रशंसा की जाएगी। यदि आप विदेश में नौकरी पाने की उम्मीद कर रहे हैं, तो खुले दिमाग से काम लें। वंशानुक्रम आय का एक संभावित स्रोत है। सिंगल लोगों के लिए अपने सपनों के व्यक्ति से शादी करना संभव है। कोई चल रही स्वास्थ्य समस्या का समाधान होगा और आप ऊर्जावान बने रहेंगे।

धनु (Sagittarius) : अपनी बढ़ी हुई ऊर्जा और सफल होने की इच्छा के कारण आप आगे बढ़ते रहेंगे। नौकरी शिफ्ट करने की आपकी कोई योजना सफल होगी। विदेश जाने की संभावना आपके अवकाश पर उपस्थित हो सकती है, और आपको लाभ होगा। अपने वित्तीय सुरक्षा जाल को मजबूत करने के लिए, वित्तीय सलाह लें। यात्रा-संबंधी खर्च क्षितिज में हैं। आत्म-सुधार पर ध्यान दें। पिता के साथ आपके संबंध खराब हो सकते हैं। शादी के मोर्चे पर सिंगल लोगों को खुशखबरी मिलेगी।

मकर : व्यावसायिक अवसरों और नकदी प्रवाह में वृद्धि होगी। आपके वर्तमान स्थान पर आवाजाही की उम्मीद है। व्यापार करने वालों को झटका लग सकता है, लेकिन निवेश में वृद्धि से लाभ होगा। कुल मिलाकर, आपके घर में अधिक शांतिपूर्ण वातावरण होगा क्योंकि आपके परिवार और जीवनसाथी के साथ आपके संबंध मजबूत होंगे। विवाहित जोड़े बच्चे पैदा करने की योजना बना सकते हैं। आपकी मां के स्वास्थ्य को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। अच्छी तरह से संतुलित आहार खाने पर ध्यान दें।

कुंभ: धैर्य और भक्ति से आपका करियर आगे बढ़ेगा। आपकी स्थिति और कार्य असाइनमेंट में वृद्धि होगी, और आप एक बड़ी टीम के प्रभारी होंगे। जो लोग व्यापार में हैं उन्हें निरंतर वृद्धि देखने को मिलेगी। आपकी बचत बढ़ेगी और आप कुछ नया करने में सक्षम होंगे। अविवाहित विवाह कर सकते हैं, जबकि विवाहित जोड़े पारिवारिक अवकाश पर जा सकते हैं। अब अपने परिवार के विस्तार के बारे में सोचने का भी एक अच्छा समय है। भाई-बहन के रिश्तों में उतार-चढ़ाव आ सकता है।

मीन (Pisces) : सिर नीचा रखें और दूसरों पर किसी प्रकार का प्रभाव डालने की कोशिश न करें। आप जो करते हैं और कहते हैं, उसमें आपको सतर्क रहना चाहिए, क्योंकि इससे आपके आस-पास के कई लोगों को नुकसान हो सकता है। दूसरे देश में आधारित पहलों पर काम करना एक अद्भुत विचार है। कोशिश करें कि जब कर्ज की बात आए तो खुद पर ज्यादा खर्च न करें। विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षा पास कर सकेंगे और स्थिर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे। पेशेवर प्रतिबद्धताओं के कारण आपको परिवार से दूर रहना पड़ सकता है।

शनि का महत्व और आसान उपाय

आमतौर पर शनि लोगों की रीढ़ की हड्डी में ठंडक लाता है क्योंकि एक मिथक है कि यह एक उग्र ग्रह है। हालांकि, यह पूरी तरह सच नहीं है। वास्तव में शनि एक उग्र ग्रह है, लेकिन यह जातक को जो कुछ भी प्रदान करता है, वह उनके कर्मों यानी कर्म के अनुसार होता है। सरल शब्दों में, वे जो करते हैं, वही मिलता है। ऐसे में यदि आपने अच्छे कर्म किए हैं, तो आपको सकारात्मक परिणाम मिलेंगे, और यदि आपने गलत कर्म किए हैं, तो आपको इसके बुरे परिणाम भुगतने होंगे।

धार्मिक दृष्टि से शनि को शनि देव के रूप में पूजा जाता है। कहा जाता है कि शनि सूर्य का पुत्र है। खगोल विज्ञान के अनुसार शनि वह ग्रह है जिसके चारों ओर एक वलय है और सौरमंडल में यह ग्रह सूर्य के बाद छठा सबसे बड़ा ग्रह है और बृहस्पति के बाद दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है।

वक्री होंगे शनि

12 जुलाई के बाद शनिदेव वक्री हो जाएंगे। फिर मकर राशि में प्रवेश करेंगे। साथ ही वे कुछ राशियों पर शुभ और अशुभ असर डालेंगे। 75 दिनों तक 3 राशि के जातकों को शनि शुभ फल देने वाले हैं। आइए जानते हैं किन राशि वालों पर शनि मेहरबान रहेंगे। शनि इस वर्ष दो बार गोचर करेंगे। पहला 29 अप्रैल, 2022 को और दूसरा 22 जुलाई, 2022 को होगा। समय की बात करें तो शनि ने 293 अप्रैल 2022 को सुबह 09:57 बजे कुंभ राशि में गोचर किया।

मिथुन राशि

शनि का गोचर शुभ समाचार लेकर आएगा। घर की जिम्मेदारियों को निभाने की दिशा में नए निर्णय ले सकते हैं। व्यापार अच्छा चलेगा। प्रमोशन होने के योग है। पिता के कार्य में सहयोग सराहनीय रहेगा। व्यक्तित्व में नए आकर्षण का संचार होगा। हुनर और समझदारी से काम को बखूबी पूरा करेंगे। अधिकारियों के सामने अपनी प्रतिभा दिखाने का सही समय है।

तुला राशि

तरक्की के नए मार्ग खुलेंगे। छात्र परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करेंगे। प्रॉपर्टी खरीदने के योग बनेंगे। कपड़ा व्यवसायियों को अच्छा मुनाफा होगा। ससुराल पक्ष से खुशखबरी प्राप्त होगी। नौकरी में सफलता मिलेगी। घर में किसी प्रकार का शुभ आयोजन होगा। अपनी कार्य योजनाओं को अपनी इच्छानुसार पूरा करेंगे। भगवान की कृपा से अटके काम सरलता से पूरे होंगे।

मेष राशि

शनि का गोचर मेष राशि के जातकों के लिए लाभदायक रहेगा। नौकरी और व्यापार में अच्छी सफलता मिलेगी। पदोन्नति हो सकती है। पुरानी तकलीफ से निजात मिल सकता है। शनिदेव आपको शुभ परिणामों की प्राप्ति करवाएंगे। आपके आकर्षण में वृद्धि होगी। सम्मान और प्रतिष्ठा में इजाफा होगा।

वृषभ राशि

वृषभ राशि वालों के लिए शनि का गोचर अच्छा है। शनिदेव आपको करियर में जबरदस्त लाभ देंगे। भाग्य की मदद से सारे काम सरलता से पूरे होंगे। व्यापारियों को बड़ा मुनाफा होगा। मांगलिक कार्यक्रम में जाने का अवसर प्राप्त होगा। बौद्धिक समृद्धि बढ़ेगी।

कन्या राशि

शनि की कृपा से रुके हुए काम बनने लगेंगे। करियर में लाभ होगा। प्रमोशन मिल सकता है। पारिवारिक आनंद की प्राप्ति होगी। प्रतिष्ठा में चमक आएगी। निवेश से लाभ होगा। कोई अच्छी खबर प्रसन्न करेगी। प्रेम संबध उत्तम रहेंगे। नए मित्रों से मुलाकात हो सकती है।

शनि का गोचर और उसके उपाय

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के लिए शनि 2022 गोचर भविष्यवाणियों के अनुसार, शनि से गोचर होगा।

वृषभ

शनि गोचर 2022 राशिफल के नवम भाव से गोचर करने वाले ग्रह की भविष्यवाणी

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातकों के लिए साल की शुरुआत में शनि आपके अष्टम भाव से गोचर करेगा।

कैंसर

कर्क राशि के जातकों के लिए अप्रैल अंत तक शनि आपके सप्तम भाव में रहेगा।

लियो

शनि गोचर की शुरुआत के दौरान ग्रह आपके छठे भाव में होने की भविष्यवाणी करता है।

कन्या

कन्या राशि के जातकों के लिए साल की शुरुआत में शनि आपके पंचम भाव से गोचर करेगा।

तुला

तुला राशि के जातकों के लिए वर्ष की शुरुआत में शनि उनके चतुर्थ भाव में विराजमान होंगे।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए 2022 में शनि का गोचर आपके तीसरे भाव से शुरू में होगा।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों के लिए वर्ष की शुरुआत में शनि आपकी राशि से गोचर करेंगे।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों के लिए साल की शुरुआत में शनि अपनी राशि से गोचर करेंगे।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए वर्ष की शुरुआत में गोचर 2022 के अनुसार शनि का असर रहेगा।

मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए शनि एकादश भाव से गोचर की शुरुआत में रहेंगे।

डिसक्लेमर

'इस लेख में दी गई जानकारी/सामग्री/गणना की प्रामाणिकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। सूचना के विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/धार्मिक मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संकलित करके यह सूचना आप तक प्रेषित की गई हैं। हमारा उद्देश्य सिर्फ सूचना पहुंचाना है, पाठक या उपयोगकर्ता इसे सिर्फ सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी तरह से उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता या पाठक की ही होगी।'

Posted By: Navodit Saktawat